गुरुवार, 28 मई, 2015 | 13:32 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    रायबरेली पहुंची सोनिया गांधी व्यापम घोटाला: अब तक जांच से जुड़े 40 लोगों की मौत त्रिपुरा सरकार ने राज्य में 18 सालों से लगा अफस्पा हटाया गुर्जर आंदोलन: जयपुर पहुंचे बैंसला, बोले आरक्षण लिए बिना नहीं हटेंगे  कुछ इस तरह हुई फीफा के 14 अधिकारियों की गिरफ्तारी पतंजलि फूड पार्क संघर्ष में एक मरा, रामदेव के भाई गिरफ्तार मूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच  फैशन के फेर में टेढ़ी हो गई लड़कियों की कमर  बेटे के लिए दूल्हा तलाश रही मां को मिले 150 रिश्ते बिहार में पढ़ने के लिए घर से भागीं दो लड़कियां
सीधे नकदी हस्तांतरण सरकार का करिश्माई कदम: चिदंबरम
मुंबई, एजेंसी First Published:01-12-12 11:05 PM
Image Loading

वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने गरीबों और जरूरतमंदों को नकदी के हस्तांतरण करने के सरकार के कदम के बारे में कहा कि यह किसी करिश्मा से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे नकदी के हस्तांतरण से सरकारी सहायता पहुंचाने में आड़े आने वाली खमियां दूर होंगी और गरीबों को सरकारी योजनाओं का पूरा लाभ मिलेगा।

महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रमुख माणिकराव ठाकरे के अनुसार चिदंबरम ने केन्द्र की इस योजना की यह कहकर सराहना की कि यह किसी जादू से कम नहीं है। उन्होंने यहां पार्टी कार्यकताओं को नकदी के सीधे हस्तांतरण योजना का पूरा ब्यौरा दिया। विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत दी जाने वाली नकदी एक जनवरी 2013 से सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में डाल दी जाएगी। दो दर्जन से अधिक योजनाओं को इसमें शामिल किया जाएगा।

ठाकरे के अनुसार वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों की तैयारी के सिलसिले में हुई इस चुनाव कार्यशाला में चिदंबरम ने कहा कि मौजूदा ऊंचे राजकोषीय घाटे और चालू खाते के घाटे के साथ साथ निवेश की धीमी गति को देखते हुए हमें कठोर उपाय करने पर मजबूर होना पड़ा है। ठाकरे ने कहा कि वित्त मंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि इन ठोस उपायों से अर्थव्यवस्था को मौजूदा कठिन दौर से बाहर निकालने में मदद मिलेगी और अगले दो साल के दौरान अर्थव्यवस्था आगे बढ़ेगी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingमूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच
भारतीय टीम के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का कार्यकाल खत्म हो चुका है और बीसीसीआई अब एक नए कोच की तलाश में जुटी हुई है। टीम इंडिया का कोच बनना एक बड़ी चुनौती होती है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड