रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 05:01 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
उत्तर भारत में ठंड का कहर जारी, 29 मरे
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:08-01-2013 11:08:48 PMLast Updated:08-01-2013 11:23:00 PM

उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड का कहर जारी है। ठंड की वजह से उत्तर भारत में 29 लोग मारे गए हैं। कई इलाकों में मंगलवार को पारा शून्य डिग्री के आसपास चला गया। दिल्ली के लोगों को आज भी जबर्दस्त ठंड का सामना करना पड़ा। चुभती सर्द हवाओं के बीच शहर का न्यूनतम तापमान 3.3 डिग्री सेल्सियस तक चला गया। सुबह के वक्त लोगों ने घरों से बाहर निकलना मुनासिब नहीं समझा। मौसम विभाग ने कहा कि आज का न्यूनतम तापमान 15.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

कश्मीर घाटी में भी कंपकंपाने वाली सर्द का सिलसिला जारी है। श्रीनगर में आज मौसम का सबसे ठंडा दिन रहा। यहां का न्यूनतम तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रात के तापमान में जबर्दस्त गिरावट की वजह से डल झील और दूसरे जलाशय पिछले दो दिनों से जमे हुए हैं।

उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी को छूकर आ रही बर्फीली हवा और उसके चलते बढ़ी गलन से उत्तर प्रदेश के लोग बेहाल हैं। ठंड का रौद्र रूप जारी है और राजधानी लखनऊ, उद्योग नगरी कानपुर, आगरा तथा गाजीपुर में पारा शून्य से नीचे जा लुढ़का है। सूत्रों के मुताबिक असहनीय हो चली ठंड की चपेट में आने से पिछले 24 घंटे के दौरान कम से कम 24 लोगों की मत्यु हो गई। इनमें उन्नाव और बाराबंकी में पांच-पांच, महोबा तथा चित्रकूट में तीन-तीन, देवरिया, ललितपुर तथा मऊ में दो-दो एवं फिरोजाबाद और हाथरस में एक-एक मौत शामिल है। इसके साथ ही राज्य भर में इस मौसम में ठंड लगने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 199 हो गई है।

उत्तराखंड के विभिन्न हिस्सों में ठंड की वजह से चार लोगों की मौत हो गई। देहरादून में इस मौसम का सबसे सर्द दिन रहा। शहर का तापमान आज शून्य डिग्री से नीचे चला गया। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ में कई जगह तापमान शून्य से नीचे चला गया। इन स्थानों में भी सर्द हवाओं से लोग परेशान रहे। हरियाणा के नारनौल में 1969 के बाद कल सबसे कम तापमान (शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस) दर्ज किया गया। आज सामान्य से 0.7 डिग्री सेल्सियम कम तापमान दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में आज की रात मौसम की सबसे सर्द रात रही। न्यूनतम तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस रहा।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingगावस्कर ने पुजारा की तारीफों के पुल बांधे
अपनी अच्छी तकनीक और शांत चित के कारण चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर अपने पांव जमाने में माहिर हैं और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस युवा बल्लेबाज की आज जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने नाबाद शतक से भारत को संकट से उबारा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!