गुरुवार, 30 जुलाई, 2015 | 01:32 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    गुजरात, ओडि़शा, राजस्थान में बारिश का कहर, 26 लोगों की मौत, हेलीकॉप्टर तैनात किए गए बिहार के सारण में दुष्कर्म के बाद आठ साल की बच्ची की हत्या केजरीवाल सरकार ने बीआरटी कॉरिडोर को समाप्त करने की घोषणा की रामेश्वरम पहुंचा कलाम का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन के लिए हजारों लोग जुटे राष्ट्रपति ने दया याचिका खारिज की, याकूब मेमन को आज सुबह दी जाएगी फांसी बिहार में राजद के चुनाव प्रचार के लिए ‘तहलका’ और ‘हसीना नंबर वन’ तैयार! महाराष्ट्र के राज्यपाल ने मेमन की दया याचिका खारिज की पहली तिमाही में आयकर विभाग ने निपटाए 65 फीसदी आवेदन तालिबान प्रमुख मुल्ला उमर की मौत, अफगान सरकार ने की मौत की पुष्टि मेमन के वकील ने बचाव में कहीं ये बातें
कांस्टेबल की मौत मामले में अपराध शाखा, मेट्रो को नोटिस
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:27-12-2012 06:49:16 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

यहां की एक अदालत ने कांस्टेबल की मौत के दो आरोपियों की याचिकाओं पर गुरुवार को दिल्ली पुलिस और दिल्ली मेट्रो को नया नोटिस जारी कर 23 दिसम्बर को दो मेट्रो स्टेशनों के सीसीटीवी कैमरे में दर्ज फुटेज संरक्षित करने का निर्देश दिया।

अदालत ने 23 वर्षीया युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म के खिलाफ इंडिया गेट पर हिंसक प्रदर्शन के बाद गिरफ्तार दो भाइयों कैलाश जोशी और अमित जोशी की याचिकाओं पर बुधवार को दिल्ली पुलिस और दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) से जवाब मांगा था।

जांच अधिकारी ने जब अदालत को बताया कि जांच अपराध शाखा को सौंपी गई है, इसलिए डीएमआरसी को नोटिस नहीं दिया जा सका है तब महानगर दंडाधिकारी अम्बिका सिंह ने गुरुवार को नोटस जारी कर 28 दिसम्बर तक जवाब मांगा।

अदालत ने कहा, ''अपराध शाखा के जांच अधिकारी और डीएमआरसी को नोटिस जारी कर रिपोर्ट दाखिल करने को कहा गया है।''

आरोपियों की ओर से पेश वकील सोमनाथ भारती ने अदालत से कहा, ''डीएमआरसी को नोटिस जारी करने में ढिलाई बरतने के लिए जांच अधिकारी को फटकार लगाई जानी चाहिए।''

दोनों आरोपियों ने अदालत से कहा है कि 23 दिसम्बर को इंडिया गेट पर हुई घटना के समय वे मेट्रो में सवार थे और रिठाला तथा राजीव चौक स्टेशनों के सीसीटीवी फुटेज को संरक्षित किया जाना चाहिए, ताकि वे उसे सबूत के तौर पर पेश कर सकें।

26 दिसम्बर को दिल्ली मेट्रो और पुलिस से गुरुवार तक जवाब दाखिल करने को कहा गया था।

भारती ने अदालत से कहा, ''मेरा एक अनुरोध है कि इस पर गौर किया जाए कि जब घटना हुई, उस वक्त दोनों आरोपी मेट्रो में सफर कर रहे थे। मेट्रो स्टेशनों के फुटेज को संरक्षित करना होगा, क्योंकि वह महत्वपूर्ण सबूत है।''

47 वर्षीय कांस्टेबल सुभाष चंद तोमर 23 दिसम्बर को प्रदर्शन के दौरान घायल हो गए थे और 23 दिसम्बर को उनकी मौत हो गई थी। इस प्रदर्शन में भाग लेने के आरोपियों के तौर पर इन दोनों भाइयों के अलावा नफीस, शंकर बिष्ट, नंद कुमार, शांतनु कुमार, अभिषेक और चमन कुमार के नाम लिए गए थे।

उल्लेखनीय है कि अदालत ने 24 दिसम्बर को सभी आरोपियों को जमानत दे दी थी। लेकिन तोमर की मौत के बाद इन सभी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया और मामले की जांच अपराध शाखा को सौंप दी गई।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingपाकिस्तान को क्लीन स्वीप से रोकने उतरेगा श्रीलंका
श्रीलंका कल से यहां शुरू हो रही दो मैचों की टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सीरीज में जीत दर्ज करके पाकिस्तान को क्लीन स्वीप करने से रोकने के इरादे से उतरेगा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड