गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 17:43 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
न्यायालय ने गुमशुदा बच्चों के मामलों में प्राथमिकी दर्ज नहीं करने पर बिहार और छत्तीसगढ़ सरकारों को आड़े हाथ लिया।सरकार 1984 के सिख विरोधी दंगों में मारे गए 3,325 लोगों में से प्रत्येक के नजदीकी परिजन को पांच़-पांच लाख देगीमहाराष्ट्र की नई सरकार में शिवसेना के किसी नेता को शामिल नहीं किया जाएगा: राजीव प्रताप रूडी
भाजपा ने की देशमुख के इस्तीफे की मांग
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:05-04-12 07:27 PM
Image Loading

महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री रहते फिल्म निर्माता सुभाष घई को जमीन आवंटित करने पर केंद्रीय मंत्री विलासराव देशमुख की सर्वोच्च न्यायालय द्वारा खिंचाई किए जाने पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुवार को उनके इस्तीफे की मांग की।

सर्वोच्च न्यायालय ने बुधवार को अपने फैसले में कहा कि फिल्म अकादमी के लिए घई को मुम्बई के गोरेगांव में आवंटित 20 एकड़ भूमि की प्रक्रिया पारदर्शी नहीं है।

न्यायालय ने भूमि का आवंटन रद्द करने वाले बम्बई उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली घई की मुक्ता आर्ट्स लिमिटेड की अपील खारिज कर दी।

भाजपा की प्रवक्ता निर्मला सीतारमन ने कहा, ''देशमुख ने जिस तरीके से घई को भूमि आवंटित की, उसे उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय ने निरस्त कर दिया है। अब देशमुख को केंद्रीय मंत्रिमंडल में बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है..उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए।''

उन्होंने कहा, ''भाजपा देशमुख से उनके इस्तीफे की मांग करती है। यदि वह इस्तीफा नहीं देते तो प्रधानमंत्री को उन्हें हटा देना चाहिए।''

 

 
 
 
टिप्पणियाँ