रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 04:19 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
लक्ष्मण रेखा लांघी, तो रावण सामने होगा: विजयवर्गीय
इंदौर, एजेंसी First Published:04-01-13 01:09 PMLast Updated:04-01-13 04:34 PM
Image Loading

मध्यप्रदेश के उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने महिलाओं के पहनावे व उनके आचरण को लेकर विवादास्पद बयान दिया है। महिलाओं को नसीहत देते हुए उन्होंने कहा कि यदि उन्होंने लक्ष्मण रेखा लांघी तो रावण सामने होगा। इसलिए उन्हें मर्यादा में रहना चाहिए।

इंदौर में गुरुवार रात आयोजित एक कार्यक्रम में विजयवर्गीय ने कहा कि महिलाओं को मर्यादा में रहना चाहिए। यदि वे मर्यादा में रहती हैं तो समाज में विकृति नहीं आ सकती। महिलाओं को मर्यादा का पालन करना चाहिए। मर्यादा का उल्लंघन होने पर सीताहरण होगा और लक्ष्मण रेखा पार करने पर रावण सामने खड़ा होगा।

विजयवर्गीय का मानना है कि समाज में विकृति को रोकने के लिए समग्र चिंतन व विचार की जरूरत है। अपने विवादास्पद बयान में उन्होंने महिलाओं द्वारा दुपट्टों का इस्तेमाल न करने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मेरा एक मित्र दुपट्टों का कारोबार करता है। उसका कहना है कि अब दुपट्टे कम बिकते हैं, क्योंकि लड़कियों ने दुपट्टा ओढ़ना बंद कर दिया है।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की तारीफ करते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि यह संगठन समाज में संस्कृति व संस्कार को बढ़ावा दे रहा है। यह संगठन नहीं होता तो बलात्कार की बढ़ती घटनाएं 29-25 वर्ष पहले ही शुरू हो गई होतीं।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ