शुक्रवार, 27 फरवरी, 2015 | 12:59 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
आर्थिक समीक्षा में कहा गया है कि आने वाले वर्षों में आर्थिक वृद्धि दर 8 से 10 प्रतिशत के बीच संभव है। वर्ष 2014-15 में वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है।गोधरा दंगों के बाद गुजरात के हिम्मतनगर जिले में तीन ब्रितानी लोगों की हत्या के मामले में स्थानीय अदालत ने छह लोगों को बरी किया।देश में विकास का अच्छा माहौल: आर्थिक सर्वे।2014-15 में विकास घरेलू मांग के कारण: आर्थिक सर्वे।बरेली- बीएसएफ के भिटौरा कैंप में स्‍वाइन फ़लू की दहशत, तबियत खराब होने पर जिला अस्‍पताल लाए गए 10 जवान, स्‍वाइन फ़लू के संदेह में कराया जा रहा मेडिकल परीक्षण, जांच को लखनऊ भेजे जा रहे नमूने।अप्रैल-दिसंबर के बीच महंगाई दर घटी: आर्थिक सर्वे।8 फीसदी विकास दर का अनुमान: आर्थिक सर्वे।लोकसभा में आर्थिक सर्वेक्षण पेश
कैबिनेट की सर्वोच्चता हमारे रुख की पुष्टि: भाजपा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:02-01-13 04:13 PM

गुजरात का लोकायुक्त नियुक्त किए जाने के वहां की राज्यपाल के फैसले के खिलाफ राज्य सरकार की याचिका को उच्चतम न्यायालय द्वारा बुधवार को खारिज कर दिए जाने पर भाजपा ने दावा किया कि इस निर्णय में मंत्रिमंडल की सर्वोच्चता को स्वीकार करना उसके रुख की जीत है।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने शीर्ष अदालत के फैसले के बाद संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस द्वारा इस निर्णय को खुद की जीत बताना निराशा का रोना रोने के अलावा और कुछ नहीं है।

हर बात का राजनीतिकरण करने को अच्छी बात नहीं बताते हुए उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने अपने फैसले में माना है कि राज्य के मंत्रिमंडल को उसका उचित महत्व दिया जाना चाहिए। मंत्रिमंडल की सर्वोच्चता को स्वीकार किया जाना फैसले का सबसे अहम बिंदु है।

उनके अनुसार, अदालत ने मंत्रिमंडल की सर्वोच्चता को स्वीकार करते हुए कहा है कि चूंकि राज्यपाल ने गुजरात के लोकपाल की नियुक्ति कर दी है, इसलिए वह उसे जारी रखती है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड