रविवार, 23 नवम्बर, 2014 | 18:48 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
सोनिया : गुजरात में कुपोषण की चर्चा नहींअच्छे दिन के लुभावने नारे दिये : सोनियासोनिया : भाजपा अधिकार छीन रही हैहम सबको साथ लेकर चलते हैं : सोनियासोनिया गांधी ने कहा, आज भी झारखंड में अंधेरा हैआज चुनाव प्रचार का आखिरी दिनझारखंड के गुमला में सोनिया गांधी की रैली
एक और महिला के साथ गैंगरेप, दक्षिण दिल्ली में फेंका
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:27-12-12 11:02 AMLast Updated:27-12-12 12:36 PM
Image Loading

उत्तर प्रदेश में तीन युवकों ने 42 वर्षीय एक महिला को कथित तौर पर बेहोश कर उसके साथ बलात्कार किया और उसे लाकर दक्षिण-पूर्वी दिल्ली में फेंक दिया।
   
यह ताजा मामला दक्षिण दिल्ली में 16 दिसंबर को एक चलती बस में एक 23 वर्षीय लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किए जाने की घटना के तत्काल बाद हुआ है।
   
पुलिस ने बताया कि जयपुर की रहने वाली इस महिला के साथ वृन्दावन में किसी जगह बलात्कार किया गया और उसे लाकर दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के कालकाजी इलाके में कल रात फेंक दिया गया।
   
यह मामला रात में लगभग सवा नौ बजे तब प्रकाश में आया जब वहां गुजर रहे एक यात्री ने महिला को सड़क पर पड़ा पाया और उसने पुलिस को फोन किया। पीड़िता 22 दिसंबर को वृन्दावन गयी थी और कल घर लौट रही थी।
   
वहां उसकी मुलाकात दिलीप वर्मा नाम के व्यक्ति से हुई और दोनों कार में अपने गृहनगर के लिए रवाना हुए। रास्ते में, वर्मा के दो दोस्त भी कार में बैठ गए।
   
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार महिला ने बताया कि उसे बांधकर बेहोश कर दिया गया और फिर तीनों ने उससे बलात्कार किया। उन्होंने बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार किया। स्वास्थ्य परीक्षण में बलात्कार की पुष्टि हुई है।
   
पुलिस ने बताया कि वह होश में है और उसे एम्स अस्पताल ले जाया गया है, जहां उसका उपचार किया जा रहा है। धारा 376 (जी) के तहत सामूहिक बलात्कार का एक मामला दर्ज कर लिया गया है और दिलीप वर्मा को हिरासत में ले लिया गया है।
   
दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता राजन भगत ने बताया वर्मा को आगरा में हिरासत में लिया गया है और उसे पूछताछ के लिए दिल्ली लाया जा रहा है। उसका (वर्मा का) दावा है कि उसकी और पीड़िता की पांच साल से जान-पहचान है। दो अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन दलों का गठन किया गया है जो कई स्थानों पर दबिश दे रहे हैं।
   
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि ऐसा भी दावा किया जा रहा है कि महिला ने पहले आगरा में बलात्कार का मामला दर्ज कराने का प्रयास किया था लेकिन जांच के बाद, पुलिस ने आरोपों को निराधार पाया इसलिए कोई मामला दर्ज नहीं किया। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है।

 
 
 
टिप्पणियाँ