गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 23:46 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नौकरानी की हत्या: धनंजय को जमानत, जागृति के रिकार्ड मांगे अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में प्रवेश पर उठेगा पर्दा योगी आदित्य नाथ ने दी उमा भारती को चुनौती देश में मौजूद कालेधन पर रखें नजर : अरुण जेटली शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं
...जया बच्चन की आंखों से छलके आंसू
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:18-12-12 06:24 PMLast Updated:18-12-12 07:34 PM
Image Loading

समाजवार्दी पार्टी (सपा) सांसद जया बच्चन राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में चलती बस में बलात्कार के मामले का उल्लेख करते हुए राज्यसभा में रो पड़ीं। जब राज्यसभा के उपसभापति पीजे कुरियन ने उन्हें बोलने का दोबारा मौका दिया तो जया ने पूछा कि क्या पीड़ित के परिजनों से सरकार ने सार्वजनिक रूप से माफी मांगी है।

जया ने मंगलवार को कहा, ‘पहली बात जो भी घटित हुआ? क्या सरकार ने परिवार के पास शोक संदेश भेजा है? क्या आपने ने सार्वजनिक रूप से यह घोषणा की कि हम देश में हुए इस शर्मनाक हादसे पर शर्मिदा हैं?’ उन्होंने कहा, ‘महोदय, मैं मूलत: कलाकार हूं और इस घटना से बेहद व्यथित हूं। उसके लिए क्या किया जा रहा है? सभी लोग इस घटना को भूल जाएंगे लेकिन वह (पीड़िता) इसे जिंदगी भर याद रखेगी। यह जीवन भार का घाव है। आप इसकी कैसे क्षतिपूर्ति कर सकते हैं?’ इसके बाद सपा सांसद के आंखों से आंसू बहने लगे और गला रुंध गया।

बड़ी ही मुश्किल से भावनाओं पर काबू पाते हुए सांसद ने कहा, ‘मैं लज्जित हूं। मैं व्यक्तिगत रूप से बहुत ही लज्जित महसूस कर रही हूं कि मैं इस सदन में बैठी हूं और कुछ भी करने के लिए सक्षम नहीं हूं। मैं साथ ही सदन में दिए जा रहे गलत उत्तरों से भी दुखी हूं।’ इससे पहले जया ने निर्धारित समय से अधिक न बोलने का मौका दिए जाने पर कुरियन से बहस की।

 
 
 
टिप्पणियाँ