शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 15:09 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
झारखंड विधानसभा के पांचवें और आखिरी चरण के मतदान का समय खत्म हो गया है।झारखंड विधानसभा के पांचवें और आखिरी चरण का मतदान खत्म होने में बस 10 मिनट बाकी हैं। 'हिन्दुस्तान' आपसे अपील करता है कि आप भी अपने मताधिकार का प्रयोग करें।झारखंड : लिट्टीपाड़ा विधानसभा क्षेत्र के पांच बूथों पर दोपहर 1 बजे तक 80 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआजम्मू: बिशनाह चुनाव क्षेत्र में मतदान केन्द्र संख्या 27 में कुल 640 वोटर हैं और मतदान के पहले घंटे में 72 प्रतिशत मतदान हो चुका है।जम्मू: बानी में 15.22 प्रतिशत, हरीनगर 15.02 प्रतिशत, बिशनाह में 14 प्रतिशत, मारह 12 प्रतिशत, कठुआ में 11.71 प्रतिशत, बशोली में 11 प्रतिशत, बिल्लावर में 10.25 प्रतिशत और गांधीनगर एवं जम्मू पूर्व में 10 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू पश्चिम और नौशेरा में नौ-नौ प्रतिशत और डरहाल में 8.50 प्रतिशत एवं कालकोट में 7.15 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू जिले के गांधीनगर विधानसभा में केंद्रीय विद्यालय में तीन मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस केंद्र पर पहले आधे घंटे में लगभग 50 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।जम्मू: गांधीनगर इलाके एक पोलिंग स्टेशन पर निर्वाचन अधिकारियों ने मतदाताओं के लिए चाय की व्यवस्था भी की है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।झारखंड: दोपहर 1 बजे तक जामताड़ा-57, नाला-56, बोरियो-45, राजमहल-43, बरहेट-47, पाकुड़-61, लिट्टीपाड़ा-59, महेशपुर-58, दुमका-44, जामा-56, जरमुंडी-57, शिकारीपाड़ा-60, सारठ-59, पोड़ैयाहाट-56, गोड्डा-47, महगामा-48 प्रतिशत मतदान हुआ
पाकिस्तानी सेना ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन
जम्मू, एजेंसी First Published:09-01-13 03:52 PM
Image Loading

भारत के दो सैनिकों की बर्बर हत्या से गर्म हुए माहौल के बाद पाकिस्तानी सेना ने दो बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी की और गोले दागे।
    
सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने कल रात पुंछ जिले के कृष्णाघाटी सेक्टर में नंगीटीकरी अग्रिम ठिकाने पर स्थित भारत की चौकियों पर मोर्टार और ग्रेनेड दागे। प्रवक्ता ने बताया कि आधे घंटे से भी अधिक वक्त तक मोर्टार दागे गये और सीमा पर मौजूद सेना के जवानों ने संयम बरकरार रखते हुए कोई जवाबी कार्रवाई नहीं की।
    
उन्होंने बताया कि दूसरी घटना लगभग चार बजे हुई, जब पाकिस्तानी सैनिकों ने नंगीटीकरी अग्रिम इलाके में भारत की चौकियों पर गोलियां बरसाईं। यह गोलीबारी आधे घंटे से भी अधिक वक्त तक जारी रही। प्रवक्ता ने बताया कि गोलीबारी और मोर्टार हमलों में कोई भी हताहत नहीं हुआ है।
    
गौरतलब है कि पाकिस्तानी सैनिकों ने कल पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास भारतीय सरजमीं में करीब 100 मीटर अंदर घुस कर गश्ती दल पर हमला किया और दो लांस नायकों हेमराज और सुधाकर सिंह की हत्या करने के अलावा दो अन्य सैनिकों को भी घायल कर दिया।
    
सूत्रों ने बताया कि दोनों भारतीय सैनिकों सिर काट दिए गए थे और एक सिर पाकिस्तानी हमलावर अपने साथ ले गये। सेना के प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने पिछले एक हफ्ते के दौरान जम्मू कश्मीर में चार बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है।
    
उन्होंने बताया कि छह जनवरी को पाकिस्तानी सैनिकों ने भारत-पाक सीमा पर उरी सेक्टर में भारत की चौकियों पर मोर्टार दागे थे। पाकिस्तानी सैनिकों ने चार जनवरी को नंगीटेकरी इलाके में भारतीय चौकियों पर तीन-चार मोर्टार दागे थे।
    
जम्मू कश्मीर में वर्ष 2012 के दौरान भारत-पाक सीमा पर सीमा पार से गोलीबारी और संघर्षविराम की 71 घटनाएं हुईं, जिनमें चार सुरक्षाकर्मियों समेत सात लोग मारे गए और 15 अन्य घायल हुए।
    
वर्ष 2011 के दौरान सीमा पार से गोलीबारी एवं संघर्षविराम की 51, वर्ष 2010 के दौरान 44 और वर्ष 2009 के दौरान 28 घटनाएं हुईं।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड