शुक्रवार, 27 मार्च, 2015 | 13:43 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
इलाहाबाद में अपार्टमेंट की लिफ्ट से गिरकर किशोर की मौत, सिविल लाइंस के तुल्सियानी स्क्वायर अपार्टमेंट की घटना, कन्या पूजा को बस्तियों से बुलाई गईं बच्चियों के साथ था किशोर, लिफ्ट का दरवाजा खुलने से हुआ हादसा, बाकी बच्चे सुरक्षित।
भारत की चेतावनी, सब्र का इम्तिहान ले रहा है पाकिस्तान...
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:09-01-13 12:41 PMLast Updated:09-01-13 04:00 PM

भारत की ओर से बुधवार को कहा गया है कि वह जम्मू एवं कश्मीर में पाकिस्तानी जवानों द्वारा दो भारतीय सैनिकों की नृशंसा हत्या के मामले में पाकिस्तान के समक्ष विरोध दर्ज कराएगा।

रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी ने मीडिया से कहा कि हम पाकिस्तान सरकार को अपने विरोध से अवगत कराएंगे और हमारे डीजीएमओ (सैन्य अभियानों के महानिदेशक) अपने पाकिस्तानी समकक्ष से इस सम्बंध में बात करेंगे। एंटनी ने कहा कि हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

उन्होंने पाकिस्तानी जवानों द्वारा मंगलवार को की गई भारतीय सैनिकों की हत्या को 'उकसाने वाले कृत्य' बताया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी जवानों ने भारतीय सैनिकों के शवों को जिस तरह क्षत-विक्षत किया वह 'अमानवीय' था।

भारतीय अधिकारियों के मुताबिक, बलूच रेजीमेंट के पाकिस्तानी सैनिकों ने मंगलवार को घने कोहरे का फायदा उठाते हुए जम्मू एवं कश्मीर में घुसपैठ कर दो भारतीय सैनिकों की हत्या कर दी और तीसरे को घायल कर दिया।

एंटनी ने संवाददाताओं से कहा कि पाकिस्तानी सेना का कार्य अत्यंत उकसावे वाला है। जिस तरह से भारतीय सैनिकों के शवों के साथ व्यवहार किया गया, वह अमानवीय है। हम पाकिस्तान के समक्ष अपना विरोध दर्ज करायेंगे और हमारे डीजीएमओ भी अपने समकक्ष से बात करेंगे। हम स्थिति पर करीबी से नजर रखे हुए हैं।
   
सेना के अतिरिक्त महानिदेशक (लोक सूचना) मेजर जनरल एस एल नरसिम्हन ने कहा कि उत्तरी सेना के कमांडर ल़े जनरल के टी परनाइक ने घटनास्थल का दौरा किया और इस बात की पुष्टि की कि दो शवों में से एक क्षत विक्षत था।
    
अन्य सूत्रों ने बताया कि दोनों भारतीय सैनिकों लांस नायक हेमराज और लांस नायक सुधाकर सिंह के सिर काट दिए गए थे और एक सिर पाकिस्तानी हमलावर अपने साथ लेते गए।
   
यह हमला पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास किया गया जब पाकिस्तानी भारतीय सीमा में करीब 100 मीटर तक अंदर आ गए और गश्ती दल पर हमला किया। दो सैनिकों की हत्या के अलावा दो अन्य सैनिकों को उन्होंने घायल किया और उनके हथियार और अन्य सामान ले गये।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें