शुक्रवार, 31 जुलाई, 2015 | 04:33 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ना 'पाक' हरकतों से नहीं बाज आ रहा है पाकिस्तान, फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 1 जवान शहीद देश में केवल 17 व्यक्तियों पर 2.14 लाख करोड़ का कर बकाया  2022 तक आबादी में चीन को पीछे छोड़ देगा भारत  झारखंड में दिसंबर तक होगी 40 हजार शिक्षकों की नियुक्तियां महिन्द्रा सितंबर में पेश करेगी एसयूवी टीयूवी-300  नेपाल: भारी बारिश के बाद भूस्खलन, 13 महिलाओं समेत 33 की मौत, 20 से अधिक लापता पेट्रोल-डीजल के दामों में हो सकती है कटौती, 1 रुपये 50 पैसे तक घट सकते हैं दाम नागपुर की सेंट्रल जेल में 1984 के बाद पहली बार दी गई फांसी पढ़ें 1993 में हुए सीरियल बम ब्लास्ट से अब तक का घटनाक्रम निर्दोषों को आतंकी कहा जा रहा है, मैं धमाकों का जिम्मेदार नहीं: याकूब
जीएमआर मुद्दे पर भारत ने मालदीव को कड़ा संदेश दिया
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:04-12-2012 10:57:46 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

मालदीव को कड़ा संदेश देते हुए भारत ने बुधवार को कहा कि उसे उम्मीद है कि वह (मालदीव) जीएमआर के अनुबंध के मुद्दे पर कानूनी प्रक्रिया पूरी होने तक कोई मनमानी और बदले की कार्रवाई नहीं करेगा।

इसके साथ ही भारत ने चेताया है कि इस तरह की किसी भी कार्रवाई से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

जीएमआर मुद्दे पर एक सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता ने यह भी कहा कि हम मालदीव से जारी हिंसा और निर्वाचित प्रतिनिधियों के खिलाफ धमकी और अतिवादी भावना के बारे में आ रही रपटों को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने मालदीव से यह सुनिश्चित करने को कहा कि कानून का पालन किया जाए और लोकतंत्र के सिद्धांतों व भावना को बरकरार रखा जाए। हम स्थिति पर पैनी नजर रखना जारी रखेंगे।

मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल सामद अब्दुल्ला के साथ विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद की बातचीत का हवाला देते हुए प्रवक्ता ने कहा कि मालदीव के विदेश मंत्री ने यह जिक्र किया है कि उनकी सरकार भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को खराब नहीं होने देगी और इस मुद्दे पर आम सहमति है। बातचीत के दौरान खुर्शीद ने मालदीव के विदेश मंत्री को पूर्व में हुई बातचीत के बारे में ध्यान दिलाया जिसमें कहा गया था कि जीएमआर मामले में कानूनी प्रक्रिया पूरी होने में समय लगने दिया जाना चाहिए और मालदीव की सरकार को स्थिति हाथ से जाने नहीं देना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि मालदीव की सरकार ने माले में जीएमआर की 50 करोड़ डालर की हवाईअडडा परियोजना रद्द कर दी जिसके बाद अब्दुल्ला ने खुर्शीद को फोन कर भारत की चिंता दूर करने की कोशिश की।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingपे टीएम ने बीसीसीआई से 2019 तक प्रायोजन अधिकार खरीदे
पे टीएम के मालिक वन97 कम्युनिकेशंस ने आज भारत में अगले चार साल तक होने वाले घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के अधिकार 203.28 करोड़ रूप में खरीद लिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड