रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 01:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
संयुक्त राष्ट्र में भारत का विरोध नहीं करेगा चीन
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:28-11-12 07:31 PMLast Updated:28-11-12 08:50 PM
Image Loading

भारत के साथ सहयोगात्मक सम्बंध की इच्छा जताते हुए चीन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कहा कि उनका देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थाई सदस्यता के लिए भारत के प्रयास का विरोध नहीं करेगा। चीन की ऐसी कोई नीति नहीं है।

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के अंतर्राष्ट्रीय विभाग में रिसर्च कार्यालय के महानिदेशक हुआंग हुआगुआंग ने थिंक टैंक ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन में एक परिचर्चा में कहा, ‘हम संयुक्त राष्ट्र में भारत की अधिक सकारात्मक और महत्वपूर्ण भूमिका का स्वागत करते हैं।’

हुआंग ने कहा, ‘हमारी नीति संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थाई सदस्यता के लिए भारत के प्रयासों का विरोध करने की नहीं है।’ उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए जारी वार्ता अराजकतापूर्ण है और इसका समन्वय बेहतर तरीके से किया जाना चाहिए।

हुआंग चीन के उस प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं, जो इन दिनों भारत के दौरे पर है। उनका उद्देश्य चीन में अगले साल होने वाले सत्ता परिवर्तन के बाद देश की अर्थव्यवस्था तथा विदेश नीति के रुझानों के बारे में भारतीय नेतृत्व और नीति-निर्माताओं को जानकारी देना है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ