गुरुवार, 23 अक्टूबर, 2014 | 09:19 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दीवाली के मौके पर कुछ समय सैनिकों के साथ बिताने के लिए गुरुवार को सियाचिन का दौरा करेंगे।
हाफिज सईद के खिलाफ ठोस सबूत चाहिए: मलिक
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:15-12-12 07:08 PM
Image Loading

पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक ने मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खिलाफ कार्रवाई की भारत की मांग वस्तुत: नामंजूर कर दी। उनका कहना है कि अब तक दिए गए दस्तावेजों (डोजियर) के आधार पर कार्रवाई नहीं हो सकती। सईद को गिरफ्तार करने के लिए ठोस और सच्चे सबूतों की आवश्यकता है।

मलिक ने एक कार्यक्रम के दौरान संवाददाताओं को अलग से बताया कि सूचना और सबूत के बीच अंतर होता है। यदि मुझे अभी ठोस सबूत मिलें तो मैं उसकी (सईद की) गिरफ्तारी का आदेश दूंगा। उन्होंने कहा कि यदि भारत ने लश्कर-ए-तय्यबा और जमात उद दावा के संस्थापक सईद के खिलाफ ठोस सबूत दिए होते तो पाकिस्तान को उसके खिलाफ कार्रवाई करने से कोई नहीं रोक सकता था।

मलिक ने कहा कि पहले तीन मौकों पर उसे गिरफ्तार किया गया है और यदि आप अदालत का आदेश देखें, जिसे मैं सार्वजनिक कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि यदि हमारी अदालत कहती है कि उसे गिरफ्तार नहीं किया जाए तो मुझे बताइए कि सरकार की क्या गलती है। उन्होंने कहा कि इसका यह मतलब नहीं है कि सईद के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। जांच चल रही है। जैसे ही हमें कोई संपर्कसूत्र मिलेगा, हम निश्चित तौर पर कार्रवाई करेंगे।
 
मुंबई हमले के साजिशकर्ताओं के खिलाफ लंबित मुकदमे के बारे में मलिक ने कहा कि गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे ने बातचीत के दौरान इस बारे में अपनी बात काफी मजबूती से रखी है।
 
 
 
टिप्पणियाँ