शनिवार, 18 अप्रैल, 2015 | 10:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
माले संकट में हो सकता है विदेशी हाथ: जीएमआर
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:05-12-12 06:33 PM
Image Loading

जीएमआर इंफ्रास्ट्रक्चर ने बुधवार को कहा कि मालदीव हवाई अड्डा परियोजना से कंपनी को बाहर करने के पीछे किसी दूसरे देश का हाथ होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। जीएमआर एयरपोर्ट्स के मुख्य वित्त अधिकारी सिद्धार्थ कपूर ने संवाददाताओं से कहा कि मैं इस बारे में पूरी तरह आश्वस्त नहीं हूं लेकिन मालदीव में राजनीतिक स्थिति को देखते हुए मैं किसी संभावना से इनकार नहीं कर सकता।

उनसे यह पूछा गया था कि क्या जीएमआर को लगता है कि 50 करोड़ डालर की परियोजना से कंपनी को हटाये जाने के पीछे चीन जैसे किसी अन्य देश का हाथ है। बहरहाल, कपूर ने किसी अन्य देश का हाथ होने के बारे में और कुछ नहीं कहा।

मालदीव ने सिंगापुर अदालत के उस निर्णय को मानने से इनकार कर दिया जिसमें जीएमआर अनुबंध को रद्द करने पर रोक दिया गया था। मालदीव ने कहा कि वह अपने निर्णय पर कायम रहेगा और हवाई अड्डे का शुक्रवार को अधिग्रहण कर लेगा। यह पूछे जाने पर कि क्या कंपनी अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत में अपील करेगी, कपूर ने कहा कि हम आशा करते हैं और मालदीव सरकार से अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करने की अपील करेंगे।

कपूर ने यह भी कहा कि जीएमआर संकट का सौहार्दपूर्ण समाधान की उम्मीद कर रही है। हालांकि, उन्होंने कहा कि मालदीव राष्ट्रपति से संपर्क करने की बार-बार कोशिश की गई लेकिन अब तक कोई जवाब नहीं आया।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingपंजाब के सामने कोलकाता की गंभीर चुनौती
पिछले मुकाबलों में शिकस्त झेल चुकी गत चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स और गत उपविजेता किंग्स इलेवन पंजाब संतुलित टीमें होने के बावजूद अभी तक आईपीएल आठ में अपनी मजबूत छाप छोडम्ने में नाकाम रही हैं और शनिवार को अहम मुकाबले में एक दूसरे के खिलाफ कड़ी चुनौती के लिये उतरेंगी।