शुक्रवार, 04 सितम्बर, 2015 | 22:04 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नहीं देख पा रहे हैं कि सरकार से इतर असहिष्णु तत्व उन्हें एवं उनकी सरकार को नियंत्रित कर रहे हैं: राहुल गांधी ने मोदी-आरएसएस बैठक पर ट्वीट किया।
पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह की सुरक्षा वापस ली गई
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:26-12-2012 10:04:27 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

सरकार ने पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह का समूचा सुरक्षा घेरा वापस लेने का फैसला किया है। सिंह भ्रष्टाचार, दिल्ली में सामूहिक बलात्कार और अन्य मुद्दों पर कई प्रदर्शनों में भाग लेते रहे हैं।

सेना के सूत्रों ने यहां बताया कि पूर्व सेना प्रमुख को 30 नवम्बर तक जैड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई गई थी, लेकिन एक समीक्षा बैठक में गृह मंत्रालय ने फैसला किया कि उन्हें किसी सुरक्षा की जरूरत नहीं है।

उन्होंने कहा कि सेना मुख्यालय को फैसले से अवगत कराए जाने के बाद वह सिंह की सुरक्षा से बुलेट प्रूफ कार सहित सभी वाहनों और 30.35 सुरक्षाकर्मियों को वापस लेने की प्रक्रिया में है।

सूत्रों ने कहा कि सिंह की सुरक्षा में हर समय सात वाहनों और 30.35 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई थी। गत 31 मई को सेवानिवृत्त हुए जनरल वीके सिंह को 30 नवम्बर तक जैड प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी और रक्षा मंत्री एके एंटनी से नौ महीने और सरकारी आवास में रहने की अनुमति मांगे जाने के बाद उन्हें दिल्ली छावनी क्षेत्र में एक साल तक सरकारी आवास में रहने की अनुमति मिली थी।

दिल्ली पुलिस ने 16 दिसंबर को चलती बस में एक लड़की से सामूहिक बलात्कार की घटना के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों में कथित भूमिका के लिए प्राथमिकी में सिंह का नाम भी दर्ज किया है ।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingद्रविड़ चाहते हैं टेस्ट में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करे रहाणे
टेस्ट क्रिकेट में अजिंक्य रहाणे के बल्लेबाजी क्रम को लेकर चल रही बहस में हिस्सा लेते हुए पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि राजस्थान रायल्स टीम में एक समय उनका साथी रहा यह बल्लेबाज पांचवें नंबर बल्लेबाजी करे और तीसरे नंबर पर नहीं जहां वह श्रीलंका के खिलाफ अंतिम दो टेस्ट में खेलने उतरे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।