शनिवार, 25 अप्रैल, 2015 | 19:56 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुजफ्फऱपुर, सीतामढ़ी व मोतिहारी में फिर आये भूकंप के झटके।हमने विनाशकारी भूकंप के आलोक में नेपाल को सहायता पहुंचाने के लिए सारे संसाधन जुटाये हैं : रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर।बिहार: मुख्यमंत्री ने प्रेस कान्फ्रेंस में 25 मौतों की पुष्टि कीधनबाद से लेकर संताल तक भूकंप के झटके, घर छोड सडक पर निकले लोग, अफरातफरी का हो गया था माहौल, अपार्टमेंट में रहने वाले घंटों रहे सडक पर, बोकारो में डीसी कार्यालय में पडी दरारबदायूं: भूकंप के झटके से बदायूं के गांव बावट में दीवार गिरी, मलबे में दबकर बुजुर्ग महिला की मौत, एक अन्‍य जगह पर दीवार गिरने से बच्‍चा हुआ घायल।तूफान प्रभावित सहरसा, मधेपुरा और पूर्णिया में अफरातफरी में कई घायलसुपौल में जेल की 50 फीट दीवार गिरी, हालांकि कोई कैदी नहीं भागाअररिया जिले के जोगबनी में दीवार गिरने से एक की दबकर मौतधरती कांपी: कोसी, सीमांचल और पूर्व बिहार में दहशत, एक मौत, कई घायल
आईओसी टर्मिनल में लगी आग में तीन लोगों की मौत
सूरत, एजेंसी First Published:06-01-13 10:02 PM

सूरत के हजीरा में स्थित इंडियन आयल कारपोरेशन (आईओसी) टर्मिनल के भंडारण टैंक संख्या चार में लगी आग पर दमकल कर्मियों ने 21 घंटों के अभियान के बाद काबू तो पा लिया लेकिन इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई।

सूरत के जिला कलक्टर जयप्रकाश शिवहरे ने कहा कि दो लोगों के शव आग में जले टैंक संख्या चार के पास से बरामद हुए हैं। इनकी पहचान कर ली गई है लेकिन तीसरे शव को अभी नहीं पहचाना जा सका है। शिवहरे ने कहा कि मारे गए तीनों लोग अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारी थे। उन्होंने कहा कि हम पिछले 21 घंटे के अभियान के बाद आग पर काबू पाने में सफल रहे। उन्होंने कहा कि अभियान अब भी जारी है ताकि स्थिति पर पूरी तरह से नियंत्रण पाया जा सके।

शिवहरे ने कहा कि जब हमें कल दोपहर को आईओसी टर्मिनल के एक पेट्रोल टैंक में आग लगने की खबर मिली। आग विशेषज्ञों की राय थी कि आग पर काबू पाने के लिए महत्वपूर्ण बात आग को अन्य भंडारण टैंक तक पहुंचने से रोकना और टैंक संख्या चार के पेट्रोल को पूरी तरह से जल जाने देना रहेगी।

हाजीरा में आईओसी के आसपास नौ टैंक हैं। आग लगने के समय टैंक संख्या चार में करीब पांच हजार किलोलीटर पेट्रोल था। उन्होंने कहा कि दमकलकर्मियों ने आग को एक टैंक से अन्य तक फैलने से रोकने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि टैंक संख्या चार का पूरा पेट्रोल लगभग जल चुका है।

वर्ष 2009 से यह दूसरा मामला है जब आईओसी भंडारण डिपो में भयंकर आग लगी है। 29 अक्तूबर 2009 को जयपुर टर्मिनल में आग लगी थी। 11 दिन तक लगी इस आग में 11 लोग मारे गए और करीब 280 करोड़ रुपये की हानि हुई थी। आईओसी ने आग के कारणों का पता लगाने के लिए आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingआईपीएल : मुंबई इंडियंस, सनराइजर्स का मुकाबला आज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के 23वें मुकाबले में शनिवार को वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद की टीमें आमने-सामने होंगी।