रविवार, 01 फरवरी, 2015 | 18:43 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दिल्ली को आगे बढ़ाना है तो भाजपा को पूर्ण बहुमत दीजिए : मोदीजहां झुग्गी होगी वहीं पक्का मकान बनाएंगे : मोदीशहर में ट्रफिक की समस्या का समाधान किरण बेदी करा देंगी : मोदीगरीबों को गरीब रखकर राजनीति हुई : मोदीचुनाव भी विकास के मु्द्दे पर लड़ता हूं और सरकार भी विकास के मुद्दे पर चलाता हूं : मोदीमेरे पास किताबी ज्ञान नहीं, लोगों की शक्ति की पहचान है : मोदीटीवी में जगह से सरकार नहीं चलती : मोदीयुवा देश का लाभ लेना मुझे आता है : मोदीअगर नसीबवाले से आपका पैसा बचता है तो बदनसीब की क्या जरूरत : मोदीमेरे नसीब से तेल-पेट्रोल सस्ता हुआ तो क्या बुरा है : मोदीआपने जो प्यार दिया अब मुझे वह ब्याज समेत लौटाना है : मोदीआंदोलन की आदत रखने वालों को सिर्फ टीवी में जगह चाहिए : मोदीदिल्ली को जिम्मेवार सरकार चाहिए : मोदीभागने से काम नहीं चलता, सरकार चलाना बड़ी जिम्मेदारी : मोदीरोज विरोधी सुबह उठकर सोचते हैं कि आज कौन सा झूठ फैलाया जाए : मोदीकांग्रेस-आप में झूठ बोलने की होड़ : मोदीकांग्रस-आप ने कुर्सी के लिए सौदा किया : मोदीहम समस्या दूर करने की सोचते हैं : मोदीदिल्ली से पानी का वादा पूरा किया : मोदीदिल्ली के द्वारका में पीएम मोदी ने रैली के दौरान कहा, मैं असली दिल्लीवाला हो गया हूंदिल्ली के द्वारका में पीएम मोदी की रैलीबीजेपी नफरत फैला रही है : सोनियाबीजेपी ने झूठे वादे किए, किसानों के सपने का क्या हुआ, काला धन वापस कहां आया : सोनियाहमने झुग्गीवालों को घर दिये : सोनियादिखावे की राजनीति करने वालों से सतर्क रहने की जरूरत : सोनियाबिहार के फारबिरगंज में काले झंडों के साथ अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों लोगों ने किया प्रदर्शन, फांस की शार्ली एब्दो पत्रिका द्वारा पैगंबर मोहम्मद साहब का कार्टून छापने के विरोध में किया प्रदर्शन।
आईओसी टर्मिनल में लगी आग में तीन लोगों की मौत
सूरत, एजेंसी First Published:06-01-13 10:02 PM

सूरत के हजीरा में स्थित इंडियन आयल कारपोरेशन (आईओसी) टर्मिनल के भंडारण टैंक संख्या चार में लगी आग पर दमकल कर्मियों ने 21 घंटों के अभियान के बाद काबू तो पा लिया लेकिन इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई।

सूरत के जिला कलक्टर जयप्रकाश शिवहरे ने कहा कि दो लोगों के शव आग में जले टैंक संख्या चार के पास से बरामद हुए हैं। इनकी पहचान कर ली गई है लेकिन तीसरे शव को अभी नहीं पहचाना जा सका है। शिवहरे ने कहा कि मारे गए तीनों लोग अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारी थे। उन्होंने कहा कि हम पिछले 21 घंटे के अभियान के बाद आग पर काबू पाने में सफल रहे। उन्होंने कहा कि अभियान अब भी जारी है ताकि स्थिति पर पूरी तरह से नियंत्रण पाया जा सके।

शिवहरे ने कहा कि जब हमें कल दोपहर को आईओसी टर्मिनल के एक पेट्रोल टैंक में आग लगने की खबर मिली। आग विशेषज्ञों की राय थी कि आग पर काबू पाने के लिए महत्वपूर्ण बात आग को अन्य भंडारण टैंक तक पहुंचने से रोकना और टैंक संख्या चार के पेट्रोल को पूरी तरह से जल जाने देना रहेगी।

हाजीरा में आईओसी के आसपास नौ टैंक हैं। आग लगने के समय टैंक संख्या चार में करीब पांच हजार किलोलीटर पेट्रोल था। उन्होंने कहा कि दमकलकर्मियों ने आग को एक टैंक से अन्य तक फैलने से रोकने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि टैंक संख्या चार का पूरा पेट्रोल लगभग जल चुका है।

वर्ष 2009 से यह दूसरा मामला है जब आईओसी भंडारण डिपो में भयंकर आग लगी है। 29 अक्तूबर 2009 को जयपुर टर्मिनल में आग लगी थी। 11 दिन तक लगी इस आग में 11 लोग मारे गए और करीब 280 करोड़ रुपये की हानि हुई थी। आईओसी ने आग के कारणों का पता लगाने के लिए आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड