मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 07:21 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
आईओसी टर्मिनल में लगी आग में तीन लोगों की मौत
सूरत, एजेंसी First Published:06-01-2013 10:02:23 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

सूरत के हजीरा में स्थित इंडियन आयल कारपोरेशन (आईओसी) टर्मिनल के भंडारण टैंक संख्या चार में लगी आग पर दमकल कर्मियों ने 21 घंटों के अभियान के बाद काबू तो पा लिया लेकिन इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई।

सूरत के जिला कलक्टर जयप्रकाश शिवहरे ने कहा कि दो लोगों के शव आग में जले टैंक संख्या चार के पास से बरामद हुए हैं। इनकी पहचान कर ली गई है लेकिन तीसरे शव को अभी नहीं पहचाना जा सका है। शिवहरे ने कहा कि मारे गए तीनों लोग अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारी थे। उन्होंने कहा कि हम पिछले 21 घंटे के अभियान के बाद आग पर काबू पाने में सफल रहे। उन्होंने कहा कि अभियान अब भी जारी है ताकि स्थिति पर पूरी तरह से नियंत्रण पाया जा सके।

शिवहरे ने कहा कि जब हमें कल दोपहर को आईओसी टर्मिनल के एक पेट्रोल टैंक में आग लगने की खबर मिली। आग विशेषज्ञों की राय थी कि आग पर काबू पाने के लिए महत्वपूर्ण बात आग को अन्य भंडारण टैंक तक पहुंचने से रोकना और टैंक संख्या चार के पेट्रोल को पूरी तरह से जल जाने देना रहेगी।

हाजीरा में आईओसी के आसपास नौ टैंक हैं। आग लगने के समय टैंक संख्या चार में करीब पांच हजार किलोलीटर पेट्रोल था। उन्होंने कहा कि दमकलकर्मियों ने आग को एक टैंक से अन्य तक फैलने से रोकने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि टैंक संख्या चार का पूरा पेट्रोल लगभग जल चुका है।

वर्ष 2009 से यह दूसरा मामला है जब आईओसी भंडारण डिपो में भयंकर आग लगी है। 29 अक्तूबर 2009 को जयपुर टर्मिनल में आग लगी थी। 11 दिन तक लगी इस आग में 11 लोग मारे गए और करीब 280 करोड़ रुपये की हानि हुई थी। आईओसी ने आग के कारणों का पता लगाने के लिए आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingललित मोदी माल्टा में, हो सकती है गिरफ्तारी
पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी के माल्टा में होने की खबर है। एक समाचार चैनल के मुताबिक उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जा सकता है। ललित के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कार्नर नोटिस जारी कर रखा है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।