मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 03:11 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अगला बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी राबड़ी देवी कांवड़ यात्रा से बरेली के कई पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्‍म  आखिर यूं ही नहीं बनती 'बाहुबली', जानिए 10 बेहद खास राज  भारत से प्रभावित होकर अंग्रेजों ने ब्रिटेन में भी बसा दिया 'पटना'  तृणमूल ने दिखाई कांग्रेस के साथ एकजुटता, लोकसभा की कार्यवाही का पांच दिनों तक करेगी बहिष्कार 14 साल से पाकिस्तान में फंसी भारतीय लड़की को बजरंगी भाईजान की जरूरत श्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान राफेल नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन खिताब चेल्सी बीते सत्र में ही ईपीएल खिताब का हकदार था: कोम्पेनी साध्वी प्राची को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने पर हंगामा
कैश सब्सिडी पर आज चुनाव आयोग करेगा फैसला
नई दिल्ली, लाइव हिन्दुस्तान First Published:04-12-2012 09:57:48 AMLast Updated:04-12-2012 11:54:53 AM
Image Loading

चुनाव आयोग मंगलवार को केंद्र की कैश सब्सिडी योजना को लेकर अपना फैसला सुनाएगा। इस योजना के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव आयोग से शिकायत की है।

भाजपा का कहना है कि केंद्र ने इस योजना की घोषणा करके राज्य में चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है। यह योजना गुजरात के चार जिलों में एक जनवरी से ही शुरू होनी है। हालांकि केंद्र इन आरोपों से पल्ला झाड़ रहा है।

भाजपा की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मागा था। केंद्र ने अपने दिए जवाब में भाजपा और अन्य पार्टियों द्वारा लगाए गए सवालों का खंडन किया है। पीएमओ द्वारा चुनाव आयोग के नोटिस के जवाब में कहा कि इस योजना की घोषणा चार माह पहले तत्कालीन वित्त मंत्री और प्रणब मुखर्जी ने की थी, इसके बाद इस योजना को अमली जामा पहनाने की भी घोषणा की गई थी।

योजना की घोषणा के एक दिन बाद ही सरकार को बाहर से समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने भी कैश ट्रासफर स्कीम की टाइमिंग को लेकर सवाल खड़े किए थे। वहीं, काग्रेस ने बीजेपी से कैश सब्सिडी पर अपना रुख साफ करने को कहा है।

सपा महासचिव रामगोपाल यादव ने कहा है कि उन्हें कैश सब्सिडी योजना को लेकर कोई शिकायत नहीं है। लेकिन सरकार को इसका एलान गुजरात चुनाव के बाद करना चाहिए था। वहीं जनता दल यूनाइटेड ने योजना को वोटरों को रिश्वत देने की कोशिश करार दिया है। दूसरी ओर, सूचना और प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने कहा है कि भाजपा को कैश सब्सिडी पर अपना रुख साफ करना चाहिए कि वह इसके हक में है या खिलाफ।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?