बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 05:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    परिवार मोह में फंसकर लालू बन गए हैं नेता से नीतीश का पिछलग्गुः रामकृपाल  होंडा ने 7.30 लाख में पेश की सीबीआर-650  आतंकियों तक जाने वाले कालेधन के रूट पर कसेगी लगाम  बेनकाब हुआ पाक का नापाक चेहरा, पाकिस्तान में रची गई थी मुंबई अटैक की साजिश सीबीआई ने यादव सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार के दो मामले दर्ज किए  आरबीआई की नीतिगत दर में बदलाव नहीं, फिलहाल नहीं घटेगी ईएमआई  खुशखबरी...और सस्ता होने वाला है पेट्रोल और डीजल बॉस हो तो ऐसा, हर एक कर्मचारी को बोनस में दिए 1.6 करोड़ रुपये  पाकिस्तानी पत्रकार चांद नवाब का नया वीडियो वायरल, क्या आपने देखा  हॉकी: पहले टेस्ट मैच में भारत ने फ्रांस को 2-0 से हराया
गैंगरेप पीड़िता की हालत नाजुक, अभी भी वेंटिलेटर पर
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:18-12-2012 01:31:26 PMLast Updated:18-12-2012 05:47:56 PM
Image Loading

दिल्ली में चलती बस में सामूहिक दुष्कर्म की घटना की शिकार बनी 23 वर्षीया पीड़िता की हालत अब भी नाजुक बनी हुई है। राजधानी के सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता को वेंटिलेटर पर रखा गया है। अस्पताल के अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

अस्पताल के प्रेस सूचना अधिकारी एस. एन. मकवाना ने बताया कि पीड़िता की हालत नाजुक है और उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है। वह डॉक्टरों से बात कर पा रही है।

पीड़िता का इलाज कर रहे अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने बताया कि उनकी फिलहाल किसी तरह की सर्जरी की योजना नहीं है।

ज्ञात हो कि रविवार की रात पीड़िता अपने मित्र के साथ एक निजी बस में चढ़ी थी, जहां सात लोगों ने उसके साथ मारपीट और सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसे महिपालपुर इलाके के पास चलती बस से फेंक दिया था।

बलात्कार और निर्दयी यातनाओं के बाद रविवार को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती लड़की को अब भी अस्पताल के सघन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में रखा गया है।
     
अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर बीडी अठानी ने कहा कि उसकी स्थिति कल से बेहतर हुई है। उसकी चेतना का स्तर कल से काफी बेहतर हुआ है। उसकी रविवार को एक सर्जरी हुई है।
     
उन्होंने कहा कि पीड़ित लड़की पर अगले 48 से 72 घंटों तक डॉक्टरों द्वारा करीबी नजर रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि डॉक्टर नियमित रूप से उसकी स्थिति देख रहे हैं, ताकि उसका सर्वश्रेष्ठ इलाज हो सके।
     
डॉक्टर ने कहा कि लड़की का चेतना स्तर कल से काफी बेहतर हुआ है और उसका लगातार इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि चोटों की प्रकृति को देखते हुए हम अब भी उसे खतरे से बाहर नहीं कह सकते।
     
डॉक्टरों ने कहा कि मेडिकल छात्रा के सिर और चेहरे पर काफी चोटें लगी हैं, क्योंकि उस पर लोहे की छड़ से निर्दयता से हमला किया गया।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingतेंदुलकर ने मलिंगा की तारीफों के पुल बांधे
तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की तारीफ करते हुए महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि श्रीलंका का यह क्रिकेटर विश्व स्तरीय गेंदबाज है और उनके साथ इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना शानदार अनुभव रहा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।