शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 13:16 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मेरठ: दोस्तों के साथ आये युवा व्यापारी की चाकुओं से गोदकर हत्यारक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, अमित शाह से मिलने पहुंचे। 2.30 बजे रक्षा मंत्रालय की प्रेस कांफ्रेंस, OROP की घोषणा संभवउत्तराखंड: पिथौरागढ़ में शिक्षकों ने सम्मान समारोह का बहिष्कार कर सड़क पर भीख मांगी, चार माह से वेतन नहीं मिलने से नाराज हैं जूनियर हाईस्कूलों के शिक्षकहरियाणा के फरीदाबाद में 6 सितंबर से शुरु होगी मेट्रो, पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन, सीएम खट्टर ने की प्रेस कांफ्रेंस
दिल्ली मेट्रो के 9 स्टेशन बंद, अव्यवस्था से यात्री परेशान
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:24-12-2012 11:34:38 AMLast Updated:24-12-2012 06:17:48 PM
Image Loading

मध्य दिल्ली के मेट्रो स्टेशनों के बाहर आज तब परेशानी की स्थिति पैदा हो गई, जब सैंकड़ों लोग बिना इस जानकारी के स्टेशनों पर पहुंचे कि सामूहिक बलात्कार के खिलाफ प्रदर्शनों की लहर के कारण कुछ मेट्रो स्टेशनों को बंद रखा गया है।
   
राजीव चौक समेत नौ मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है। मेट्रो स्टेशनों पर लोगों का स्वागत इन्हीं बोर्ड से स्वागत हुआ जिन पर लिखा था कि दिल्ली पुलिस के आदेशानुसार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश और बाहर निकलना मना है।
   
मेट्रो से सफर करने के लिये राजीव चौक पर पांच लाख से अधिक यात्री इस स्टेशन का प्रयोग करते हैं। इस स्टेशन को बंद किये जाने से असहाय लोगों में गुस्सा पनप गया।
   
दिल्ली मेट्रो द्वारा जारी परामर्श के अनुसार प्रगति मैदान, मंडी हाउस, बाराखंभा रोड, राजीव चौक, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, रेस कोर्स और खान मार्केट मेट्रो स्टेशनों को अगले आदेशों तक बंद रखा गया है।
   
राजीव चौक के अलावा आठ स्टेशन कल भी बंद रहे थे पर रविवार होने के कारण इसका प्रभाव देखने को नहीं मिला था। हालांकि राजीव चौक और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन पर इंटरचेंज (रूट बदलने की सुविधा) की अनुमति थी पर इसका कोई लाभ नहीं हुआ क्योंकि नजदीकी स्टेशन भी बंद थे।
   
संसद मार्ग पर एक कार्यालय में काम करने वाली राधिका ने बताया, उसे पता नहीं था कि उसके कार्यालय के पास के सभी स्टेशन बंद हैं। उसने बताया कि जब मेट्रो रेल तीन स्टेशनों पर नहीं रुकी, तो वह हैरत में रह गई, पर जब मेट्रो राजीव चौक स्टेशन पर रुकी तभी उन्हें राहत मिली।
    
राधिका ने बताया कि मुझे राजीव चौक से भी बाहर नहीं निकलने नहीं दिया गया। मैं अंदर ही फंस गयी। मुझे नहीं पता चल रहा था कि मैं कैसे दफ्तर पहुंचूंगी। राधिका की तरह ही सैंकड़ों यात्री मेट्रो स्टेशनों पर फंस गये। इन स्टेशनों को इंडिया गेट पर जाने से रोकने के लिये बंद किया गया है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingटीचर्स डे पर तेंदुलकर ने आचरेकर सर को ऐसे किया 'सलाम'
मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम इंटरनेशनल क्रिकेट के बल्लेबाजी के लगभग सभी बड़े रिकॉर्ड्स दर्ज हैं। तेंदुलकर को क्रिकेट के भगवान तक का दर्जा दिया गया है, लेकिन इन सबके पीछे एक इंसान का सबसे बड़ा योगदान रहा है, तेंदुलकर के गुरु रमाकांत आचरेकर।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।