शनिवार, 30 मई, 2015 | 07:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
सामूहिक बलात्कार मामले में शिंदे से मिले दिल्ली पुलिस आयुक्त
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:19-12-12 01:22 PMLast Updated:19-12-12 03:32 PM

दिल्ली में उत्तराखंड से ताल्लुक रखने वाली एक पैरामेडिकल छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले को लेकर दिल्ली के पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने बुधवार को गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे से मुलाकात की।
    
बैठक में फैसला किया गया कि बसों से रंगीन शीशों और पर्दो को हटाने का अभियान चलाया जाएगा। सूत्रों ने कहा कि यह भी फैसला किया गया कि बसों पर बड़े आकार में चालकों के मोबाइल नंबर और लाइसेंस नंबर लिखे जाएंगे।
    
यह बैठक ऐसे समय हुई है जबकि एक दिन पूर्व कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने गृह मंत्री शिंदे और दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को कड़े शब्दों में पत्र लिखे और कहा कि यह शर्म की बात है कि इस तरह की दर्दनाक घटनाएं नियमितता के साथ हो रही हैं।
    
गौरतलब है कि एक लड़की के साथ रविवार रात को रंगीन शीशों और पर्दों वाली चलती बस में छह लोगों ने कथित रूप से बलात्कार किया था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बसों को खड़ा करने के लिए बस मालिकों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। चालकों द्वारा अपने स्थलों पर बस खड़ी करने की परंपरा रोकी जाएगी।
    
पुलिस ने स्कूलों के साथ करार वालीं निजी बसों के चालकों के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने के लिए भी कहा गया है।
    
इस बीच पुलिस मुख्यालय और जंतर मंर पर इस घटना के खिलाफ प्रदर्शन हुए। डॉक्टरों ने कहना है कि यह लड़की गंभीर अवस्था में बनी हुई है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingअंतिम 11 में जगह मिलने की नहीं थी उम्मीद : सरफराज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के सबसे युवा बल्लेबाज सरफराज खान का कहना है कि उन्हें क्रिस गेल, ए.बी. डीविलियर्स और विराट कोहली जैसे विध्वंसक बल्लेबाजों के बीच अंतिम 11 में जगह मिलने का यकीन नहीं था और नम्बर छह की बेहद महत्वपूर्ण स्थान पर मौका दिये जाने से उनका आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड