मंगलवार, 27 जनवरी, 2015 | 22:22 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
कर्नल राय को सोमवार को ही गणतंत्र दिवस के मौके पर वीरता सम्मान प्रदान किया गया था।कश्मीर मुठभेड़ में कर्नल राय और सिपाही शहीद।'मन की बात' पर ई बुक निकाली जाएगी: मोदी।जॉब फॉर आल, यस वी कैन: मोदी।मन की बात सुनने के लिए देशवासियों का आभारी हूं: मोदी।मोटापे और डायबिटीज से लड़ने में भारत की मदद को तैयार: बराक।मेरे पास वही समस्याएं आती हैं जिन्हे कोई हल नहीं कर पाता है: बराक।मुझे बेंजामिन फेंकलिन का जीवन चरित्र प्रेरक लगता है: मोदी।युवकों दुनिया को एक करो: मोदी।मोदी ने ओबामा को बेटियों के साथ भारत आने का निमंत्रण दिया।आज का युवा देश की सीमाओं से बंधा नहीं है: बराक।कुछ बनने के नहीं कुछ करने के सपने देखो: मोदी।मैं राष्ट्रपति पद से हटने के बाद बेटियों के साथ भारत आना चाहूंगा: बराक।मोदी को बराक ओबामा ने किताब के प्रमुख हिस्सों को पढ़कर सुनाया था।बराक ने मुझे स्वामी विवेकानंद के भाषण वाली किताब दी थी, यह बात मेरे दिल को छू गई थी: मोदी।अपनी बेटियों को बताऊंगा कि जितना आप जानतीं हैं भारत उतना ही भव्य है: बराक।मेरी बेटी को भारत की संस्कृति काफी पसंद है: बराक।मेरी बेटियां भारत आने को उत्सुक थीं, लेकिन स्कूली परीक्षा में व्यस्तता के कारण नहीं आ पाईं: बराक।मानव सेवा को ईश्वर सेवा मानने की गांधी जी की शिक्षा अनुकरणीय: बराक।भारत और अमेरिका दुनिया के दो बड़े लोकतंत्र हैं: बराक।बराक ओबामा ने मन की बात में भारत के लोगों को नमस्ते कहा।रविवार को हुई थी कार्यक्रम की रिकार्डिंग।बराक का मतलब है, वह जिसे आशीर्वाद प्राप्त है: मोदी।रेडियो पर मोदी-ओबामा ने शुरू की मन की बात।देवघर कोर्ट ने भड़काऊ भाषण मामले में केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ सम्मन जारी किया।मुजफ्फरपुर: ट्रेन इंजन से टकराई कार, एक की मौत।कोली की फांसी रोकने संबंधी याचिका पर सुनवाई पूरी, कल आएगा फैसला।
देश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया जाएगा: प्रधानमंत्री
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-12 09:48 AMLast Updated:29-12-12 12:11 PM
Image Loading

सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता की मौत पर गहरा दुख जताते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शनिवार को कहा कि यह हम सब के ऊपर है कि हम उसकी मौत को व्यर्थ न जाने दें और देश को महिलाओं के लिए प्रामाणिक रूप से बेहतर और सुरक्षित स्थान बनाएं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह दुख की इस घड़ी में देश के साथ हैं। उन्होंने पीड़िता के परिवार व मित्रों के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं भी जताईं। उन्होंने कहा कि मैं उनसे व देश से कहना चाहता हूं कि वह लड़की जिंदगी की जंग भले ही हार गई हो, लेकिन अब यह हमारे ऊपर है कि हम यह सुनिश्चित करें कि उसकी मौत व्यर्थ न जाए।

प्रधानमंत्री ने अपने संदेश में कहा कि हम इस घटना से उपजी भावनाओं व ऊर्जा को पहले ही देख चुके हैं। युवा भारत और सही मायने में बदलाव की इच्छा रखने वाले देश की ओर से इस तरह की प्रतिक्रियाएं आना समझा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि यदि हम इन भावनाओं और ऊर्जा का सकारात्मक कार्रवाई में इस्तेमाल कर सकें तो यह उस पीडिम्ता को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

सिंह ने अपने वक्तव्य में कहा कि इस समय सामाजिक व्यवहार में आवश्यक महत्वपूर्ण बदलावों पर निष्पक्ष बहस व जांच की जरूरत है। सरकार इस तरह के अपराधों के लिए बने मौजूदा दंडात्मक प्रावधानों और महिलाओं की सुरक्षा बढ़ाने के उपायों का प्राथमिकता के आधार पर जांच कर रही है।

प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई कि पूरा राजनीतिक वर्ग व नागरिक समाज अपने संकीर्ण हितों को किनारे रखकर देश को महिलाओं के लिए प्रामाणिक रूप से एक बेहतर व सुरक्षित स्थान बनाने में मदद करेंगे।

उन्होंने कहा कि मैं पीड़िता की आत्मा के लिए शांति की प्रार्थना करता हूं और उम्मीद करता हूं कि उसके परिवार को इस दुख से उबरने की ताकत मिले।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड