शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 10:38 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
झारखंड: लिट्टीपाड़ा के फतेहपुर गांव की महिलाओं को उम्मीद कि नई सरकार पेयजल की समस्या हल करेगीदुमका विधानसभा क्षेत्र के माहरो बूथ पर लगी लंबी कतार, दुमका सीट से मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन लड़ रहे हैंसाहिबगंज जिले के उधवा में मौसम भी मेहरबान रहा, सुबह धूप निकली, मतदाताओं में उत्‍साहजम्मू के डिवीजनल कमिश्नर अजित कुमार साहू का कहना है कि मतदाताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। ठंड के बावजूद बड़ी संख्या में लोग वोट डालने आ रहे हैं। साहू ने कहा कि हमने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं और कहीं से भी हिंसा की कोई खबर नहीं है।राजौरी में मतदान करने के बाद एक वोटर ने कहा कि लोगों में मतदान को लेकर उत्साह है और सभी जगह शांतिपूर्ण तरीके से मतदान चल रहा है।शुक्रवार की रात नौशेरा में पीडीपी कार्यकर्ताओं के हमले में घायल भाजपा प्रत्याशी रविंद्र रैना को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।यूपी: अमरोहा के चौधरपुर गांव में युवक की गला घोंट कर हत्या, सुबह घर के बाहर मिला शव, पुलिस पूछताछ में जुटीदुमका के कुछ वोटरों से हिन्दुस्तान ने बातचीत कर जानना चाहा कि उनकी वोटिंग का आधार क्या है? 35 साल के सत्येंद्र सिंह का कहना है स्थायी सरकार मुद्दा है, तो 42 साल के जवाहर लाल का कहना है कि शिक्षा के क्षेत्र में विकास है मुद्दा।झारखंड: सुबह 9 बजे तक जामताड़ा-13, नाला-11, बोरियो-20, राजमहल-18, बरहेट-11, पाकुड़-16, लिट़टीपाड़ा-16, महेशपुर-18,दुमका-11, जामा-14, जरमुंडी-12, शिकारीपाड़ा-14, सारठ-14, पोड़ैयाहाट-11, गोड़डा-12, महगामा-10 प्रतिशत मतदान हुआझारखंड: पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा विस क्षेत्र में बूथ-134 में बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर हुआ बहिष्कार, 9 बजे फिर शुरू हुआ मतदानझारखंड : बोरियो के बूथ नं 208 में एक घंटे में 124 वोट पड़ेझारखंड : जामताड़ा में सुबह से महिला मतदाताओं में गज़ब का उत्साहजम्मू कश्मीर में 20 सीटों के लिए मतदान शुरूझारखंड: दुमका के बूथ नम्बर 114 में सुबह से मतदाताओं में उत्साह नजर आ रहा हैझारखंड: सारठ के पालाजोरी ब्लॉक में बूथ नंबर 172 पर इवीएम खराब, 15 मिनट देर से शुरू हुआ मतदानझारखंड: दुमका के 114 नंबर बूथ पर सुबह से लगी महिला वोटरों की लंबी कतारझारखंड: जामताड़ा के बूथ नंबर 203 पर सुबह 7 बजे से ही वोटरों की लंबी कतार लगीझारखंड : दुमका के बूथ नम्बर 207 में पहला वोट पड़ा
शर्म भी आती है और दुख भी होता है: शीला दीक्षित
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-12 11:16 AMLast Updated:29-12-12 02:48 PM
Image Loading

दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने 23 साल की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार को बतौर प्रशासक अपने लिए शर्मनाक घटना करार देते हुए पीड़िता की मौत पर गहरे दुख का इजहार किया है।
   
शीला ने लोगों से इसके साथ ही अपील की है कि वे शांति बनाए रखें। उन्होंने कहा कि इस तरह की वीभत्स घटना दोबारा नहीं हो, यह सुनिश्चित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारी संवेदना परिवार के साथ है। मुझे बहुत पीड़ा हो रही है। लड़की का निधन बहुत दुखद घटना है। इसने हमारी अंतरात्मा को हिला दिया है।
   
बीते 16 दिसंबर को चलती बस में छह लोगों ने 23 साल की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने के साथ ही उसके साथ हैवानियत का व्यवहार किया था। करीब एक पखवाड़े तक जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ने के बाद आज इस पीड़िता ने तड़के सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में दम तोड़ दिया।
     
शीला ने कहा कि मुख्यमंत्री और दिल्ली का निवासी होने के तौर पर मेरे लिए यह एक शर्मनाक घटना है। हम सभी को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि भविष्य में इस तरह की घटना दोबारा नहीं हो। मैं उसके लिए प्रार्थना करती हूं।
     
उन्होंने कहा कि इस बहादुर लड़की का गुजरना एक दुखद खबर है। दिल्ली की मुख्यमंत्री ने कहा कि उसने बड़ी बहादुरी से लड़ा और इस प्रक्रिया ने देश की अंतरात्मा को झकझोर दिया है। यह वक्त भाषण या बयान देने का नहीं है, बल्कि गहरी संवेदना का है।
     
उन्होंने कहा कि उसकी आत्मा को शांति मिले और भगवान परिवार एवं सभी लोगों को इस दुखद क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। मैं आशा करती हूं कि सभी लोग इससे सबके लेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि ऐसी वीभत्स घटनाएं दोबारा नहीं हों।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड