गुरुवार, 27 नवम्बर, 2014 | 09:46 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बसपा ने राज्यसभा के लिए प्रत्याशी घोषित कियेआजमगढ़ के राजाराम और एडवोकेट बीरसिंह दोनों दलित प्रत्याशी
किले में तब्दील हुई दिल्ली, मुख्य स्थान सील
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-12 11:42 AM
Image Loading

दिल्ली में चलती बस में सामूहिक दुष्कर्म का शिकार हुई लड़की की मौत के बाद शहर में प्रदर्शनों को रोकने के लिए पुलिस ने शनिवार को इंडिया गेट और उसके आसपास के क्षेत्रों को सील करने की घोषणा कर दी। पीड़िता ने शनिवार तड़के दम तोड़ दिया।

इन स्थानों की ओर जाने वाले मागरे पर भी आम जनता के लिए आवाजाही रोक दी गई है। दिल्ली यातायात पुलिस ने शनिवार सुबह अपने ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दी, ''राजपथ, विजय चौक और इंडिया गेट की तरफ जाने वाले सभी मार्गो को आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है। सभी लोगों को सलाह दी जाती है कि वे इन मार्गों का उपयोग न करें।''

इसके अलावा पुलिस के आग्रह पर दिल्ली मेट्रो ने भी येलो, ब्लू और वाइलिट लाइनों पर पड़ने वाले 10 स्टेशनों को बंद कर दिया है।

बंद किए गए 10 स्टेशनों में प्रगति मैदान, मंडी हाऊस, बाराखम्बा रोड, राजीव चौक, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, रेस कोर्स, जोर बाग और खान मार्किट शामिल हैं।

अधिकारी ने यह भी बताया कि हालांकि राजीव चौक और केंद्रीय सचिवालय पर यात्री एक लाइन से दूसरी लाइन की ट्रेनें बदल सकेंगे। लेकिन किसी को भी इन स्टेशनों के अंदर आने और यहां से बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी।

ज्ञात हो कि गत 16 दिसम्बर को चलती बस में सामूहिक दुष्कर्म के बाद लड़की को सड़क के किनारे फेंक दिया गया था। इस घटना के बाद से शहर के प्रमुख स्थानों पर प्रदर्शनों का सिलसिला जारी है। पुलिस और प्रदर्शकारियों के बीच हुई झड़प में एक पुलिसकर्मी की मौत भी हो चुकी है।

बीते 13 दिनों से जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही पीडिम्ता ने शनिवार तड़के सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में दम तोड़ दिया। वह फिजियोथरेपी की छात्रा थी।

दिल्ली पुलिस ने पूर्व में कहा था कि सार्वजनिक सद्भाव बनाए रखने के लिए प्रतिबंधात्मक आदेश बेहद जरूरी हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ