गुरुवार, 03 सितम्बर, 2015 | 16:23 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुरादाबाद में बीए और बीएससी के छात्र देते थे लूट की वारदात को अंजाम। ठाकुरद्वारा पुलिस ने पकड़ा ऐसे लुटेरों का गिरोह। तीन लुटेरे पकड़े दस वारदातों का खुलासा।धनबाद: झरिया की सेल चितपुर कोलियरी के डीजी प्लांट का ताला तोड़कर हजारों के सामान की चोरी कर ली गई है।झारखंड: साहिबगंज के उधवा में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहक सेवा केंद्र में लाखों की चोरी हो गई है। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।गोड्डा जिले के महागामा स्थित मोतीचक भाजपुर बहियार में गुरुवार को 16 वर्षीय लड़की का शव मिला है। शव धान के खेत में पड़ा था। शव की पहचान नहीं हो सकी है। लड़की की गला दबाकर हत्या की गई है।गिरिडीह के धनवार में गुरुवार को एक व्यक्ति ने चाकू घोंप कर पत्नी की हत्या कर दी। उसने खुद को भी चाकू मार कर जख्मी कर लिया। महिला उसकी दूसरी पत्नी थी।झारखंड: कहलगांव एनटीपीसी में खराबी, संताल के तीन जिलों में बिजली बंदआगरा में सोशल मीडिया पर एक धर्म के खिलाफ लिखी एक पोस्ट से शम्शाबाद इलाके में तनावउत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन बिजली की समस्या के मुद्दे पर दोपहर 3.30 बजे सभी जिलाधिकारियों के साथ VC करेंगे।मुरादाबाद एसएसपी ने दो सिपाहियों को किया निलंबित। दोनों पर मंडी चौक पुलिस चौकी के अंदर बिजली विभाग के कर्मचारी से साथ कुकर्म के प्रयास का आरोप था। कर्मचारी का वीडियो बनाकर व्हाट्सअप पर भी भेजा था।अमरोहा: शहर के कल्यानपुरा रोड पर स्थित रुई कारखाने में मशीन में आकर युवक की मौत। मृतक सैदनगली थाना इलाके के अफजलपुर का रहनेवाला है। मौके पर पहुंचे परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया।रांची: हजारीबाग के बड़कागांव का हल्का कर्मचारी अजय सिंह, जिसे गुरुवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने पांच हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया।अमरोहा: मंडी धनौरा थाने के गांव चुचैलाकला में बीती रात प्रेमिका के बुलावे पर उसके घर पहुंचे प्रेमी को पड़ोसियों ने बनाया बंधक। सुबह युवक के परिजनों को बुलाकर निकाह कर साथ भेजी युवती।रांची: गोविंदपुर-साहिबगंज सड़क पर बस पलटी, एक दर्जन से अधिक घायल
पीड़िता को सिंगापुर भेजने का डॉक्टरों ने किया बचाव
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-2012 10:36:26 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

चलती बस में सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की को इलाज के लिए सिंगापुर भेजे जाने को लेकर उठते सवालों के बीच, सफदरजंग अस्पताल में उसका इलाज करने वाले दल के प्रमुख डॉक्टर तथा पीड़ित के साथ हवाई एंबुलेन्स में गए अन्य डॉक्टरों ने आज इस फैसले की आलोचनाओं को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनका इरादा किसी भी सूरत में लड़की को बचाना था।
   
सफदरजंग अस्पताल के सुपरिन्टेन्डेंट डॉ बी डी अथानी ने कहा कि यह समय इस बात को लेकर बहस करने का नहीं है कि पीड़ित को सिंगापुर भेजने का फैसला राजनीतिक आधार पर था या चिकित्सकीय आधार पर।
   
उन्होंने कहा एकमात्र और सिर्फ एकमात्र इरादा हर सूरत में उसकी जान बचाने का था। पूरा देश उसके लिए प्रार्थना कर रहा था और हर व्यक्ति को उम्मीद थी कि वह ठीक हो जाएगी। हम उम्मीद नहीं त्याग सकते थे। हम उसकी जान बचाना चाहते थे।
   
मेदान्ता मेडिसिटी हॉस्पिटल के चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ यतीन मेहता ने कहा कि वह पीडिम्त को सिंगापुर भेजने के फैसले की आलोचना से आश्चर्यचकित हैं।
   
कुछ विशेषज्ञों जैसे गंगाराम अस्पताल के डॉ समीरन नन्दी ने आश्चर्य व्यक्त किया था कि गंभीर रूप से बीमार ऐसी मरीज को क्यों विदेश भेजा गया, जिसके रक्त और शरीर में संक्रमण था, तेज बुखार था और जो वेन्टीलेटर पर थी।
   
आलोचनाओं पर प्रतिक्रिया में डॉ मेहता ने कहा अक्सर डॉक्टर दूसरे डॉक्टरों के फैसले की आलोचना करते हैं और यह सही नहीं है। उन्होंने कहा कि मरीज सिंगापुर के अस्पताल में 48 घंटे जीवित रही और यह नहीं कहा जा सकता कि उसे वहां नहीं भेजा जाना चाहिए था।
   
डॉ मेहता ने कहा दूसरी बात यह है कि भारत में सरकारी अस्पतालों और सिंगापुर के माउंट एलिजबेथ अस्पताल के बीच कोई तुलना नहीं है। मैं डॉक्टरों की कुशलता के बारे में नहीं बल्कि बुनियादी सुविधाओं के बारे में बात कर रहा हूं। हमें यह पता होना चाहिए।
   
डॉ अथानी ने कहा कि पीडिम्त की आंत और जननांगों में अत्यंत गंभीर चोटें थीं। उन्होंने कहा हमने उसकी आंत का बहुत बड़ा हिस्सा संक्रमण की वजह से निकाल दिया था। जो चोटें थीं वह अत्यंत गंभीर किस्म की थीं। हमने जननागों की चोट के बारे में बात नहीं की क्योंकि उससे तब उसके स्वास्थ्य पर असर नहीं पड़ रहा था।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingसंगाकारा का ट्विटर हुआ हैक, आपत्तिजनक ट्वीट के लिए मांगी माफी
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर को हाल ही में अलविदा कहने वाले श्रीलंका के दिग्गज विकेटकीपर/बल्लेबाज कुमार संगाकारा ने बुधवार को कहा कि उनका ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया गया था।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

जब संता गया बैंक लूटने...
संता बैंक में डकैती डालने पहुंचा मगर रिवॉलवर घर पर ही भूल गया...
मगर बैंक फिर भी लूट लाया बताओ कैसे?
क्योंकि बैंक मैनेजर बंता था...
बंता: (संता से बोला) कोई बात नहीं...पैसे ले जाओ रिवॉलवर कल दिखा जाना!!