शनिवार, 23 मई, 2015 | 00:38 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    9 अभिनेत्रियां जिनकी मौत आज भी है रहस्य कोयला घोटाला: जिंदल, राव, कोड़ा को जमानत पिछले एक साल में मोदी सरकार ने दुनिया भर में बढ़ाया भारत का मान: जेटली प्रकृति एवं पर्यावरण पर ग्रीष्मकालीन शिविर आईपीएल सट्टेबाजी केस में ईडी ने मारे छापे मतदाताओं के लिए आधार की अनिवार्यता पर माकपा को आपत्ति उपराज्यपाल जंग को मिलते हैं प्रधानमंत्री ऑफिस से निर्देश: केजरीवाल पीएफ का पैसा निकालने जा रहे हैं, तो पहले जरूर पढ़ें ये खबर आतंकवाद पर रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने दिखाया सख्त रुख आईपीएल: मैच ही नहीं, कप्तानी का भी मुकाबला
मुश्किल था पीड़िता का सदमे से उबरना
सिंगापुर, एजेंसी First Published:29-12-12 02:51 PM
Image Loading

दिल्ली में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार हुई लड़की की सिंगापुर के अस्पताल में मौत के बाद अस्पताल के एक अधिकारी ने कहा कि पीड़िता का सदमे से उबर पाना काफी मुश्किल था। उसने शनिवार तड़के दम तोड़ दिया।

पीडिम्ता (23 वर्ष) को गत गुरुवार दिल्ली से सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल लाया गया था और यहां आठ विशेषज्ञों की एक टीम उसकी जान बचाने की हर सम्भव कोशिश की। अस्पताल के अधिकारी ने कहा कि बीते दो दिनों से लड़की की हालत काफी खराब थी। 

समाचार पत्र 'स्ट्रेट्स टाइम्स' ने अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केल्विन लोह के हवाले से बताया कि शरीर और मस्तिष्क में गम्भीर चोटें लगने की वजह से पीडिम्ता के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

लोह ने कहा कि वह इतने लम्बे समय तक तकलीफों के बावजूद जीवन के लिए साहस से संघर्ष करती रही, लेकिन उसके लिए शरीर पर आई चोटों के सदमे से उबर पाना मुश्किल था। उन्होंने कहा कि हम लड़की के अंतिम संघर्ष के दौरान उसकी देखभाल की जिम्मेदारी सौंपे जाने के लिए आभारी हैं।

उन्होंने बताया कि हम लड़की के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हैं और इस दुख के समय में उसके परिवार को सम्भव मदद प्रदान करने के लिए भारतीय उच्चायोग के साथ मिलकर काम भी करेंगे। उन्होंने कहा कि अस्पताल लाए जाने के समय से ही पीड़िता की हालत बेहद गम्भीर थी।

ज्ञात हो कि गत 16 दिसम्बर को छह लोगों ने पीड़िता के साथ चलती बस में दुष्कर्म किया और 40 मिनट बाद उसे सड़क के किनारे छोड़ दिया था।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingआरसीबी को हराकर चेन्नई शान से फाइनल में
आशीष नेहरा की अगुआई में गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज माइक हसी के जुझारू अर्धशतक से चेन्नई सुपकिंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के दूसरे क्वालीफायर में आज यहां रायल चैलेंजर्स बेंगलूर को रोमांचक मुकाबले में तीन विकेट से हराकर छठी बार फाइनल में जगह बनाई।