गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 22:10 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं कालेधन मामले में सभी दोषियों की खबर लेगा एसआईटी: शाह एनसीपी के समर्थन देने पर शिवसेना ने उठाये सवाल 'कम उम्र के लोगों की इबोला से कम मौतें'  स्वामी के खिलाफ मानहानि मामले की सुनवाई पर रोक मायाराम को अल्पसंख्यक मंत्रालय में भेजा गया
हिमाचल में वीरभद्र सिंह के CM बनने का रास्ता साफ
शिमला, एजेंसी First Published:20-12-12 03:06 PMLast Updated:20-12-12 07:56 PM
Image Loading

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने सत्तारूढ भाजपा से सत्ता छीन ली है और पार्टी ने 36 सीटों के साथ सामान्य बहुमत हासिल कर लिया।

भाजपा ने 26 सीटें जीती हैं।  गौरतलब है कि राज्य में सरकार बनाने के लिए किसी दल या गठबंधन को 35 सदस्यों के समर्थन की जरूरत होती है।

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष वीरभद्र सिंह ने शिमला ग्रामीण सीट पर जीत दर्ज की। वीरभद्र ने इस सीट पर अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी भाजपा के ईश्वर रोहल को 20 हजार मतों से पराजित किया। सिंह कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के सशक्त दावेदार माने जाते हैं और अभी वह लोकसभा के सदस्य भी हैं।

सिंह ने कहा कि हाईकमान ने उन्हें पार्टी को प्रदेश में सत्ता में वापसी का दायित्व सौंपा था और इसके लिए उन्होंने पूरी ताकत झोंक दी थी। मुख्यमंत्री पद के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी फैसला करेंगी। वहीं, हमीरपुर सीट पर मुख्यमंत्री प्रेमकुमार धूमल ने जीत दर्ज की। धूमल ने कांग्रेस के नरिन्दर ठाकुर को 9500 मतों से पराजित किया।

धूमल ने प्रदेश में पार्टी की हार स्वीकार करते हुए कहा कि पार्टी अब इस बात की समीक्षा करेगी कि कांटे के इस मुकाबले में क्या गलती हुई। उन्होंने कहा कि हम यह पता लगायेंगे कि हम कहां पीछे रहे।

 
 
 
टिप्पणियाँ