शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 21:31 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
सर्दी से ठिठुरा उत्तर भारत, 23 और की मौत
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-01-13 10:39 PMLast Updated:07-01-13 11:13 AM

उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड की सिलसिला रविवार को भी नहीं थमा और दिन-ब-दिन प्रचंड होती गलन तथा ठिठुरन भरी सर्दी की चपेट में आने से 23 और लोगों की मौत हो गई।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में आज इस मौसम का न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री कम है। अधिकतम तापमान 11. 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से नौ डिग्री कम है।

मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में कल सुबह धुंध भरी रहने का अनुमान है। उत्तर प्रदेश में कड़ाके की सर्दी से जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा। मुजफ्फरनगर में पारा जमाव बिंदु के नजदीक पहुंच गया है । पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में ठंड की चपेट में आने से कम से कम 15 लोगों की मृत्यु हो गयी।

सूत्रों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में बिजनौर, एटा तथा मुजफ्फरनगर में तीन-तीन, ललितपुर और मिर्जापुर में दो-दो तथा उन्नाव और चंदौली में एक-एक व्यक्ति की ठंड लगने से मौत की खबर है। इसके साथ ही इस मौसम में ठंड लगने से मरने वालों की तादाद बढ़कर 155 हो गयी है।

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से छह से 13 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया है। पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के लखनऊ, गोरखपुर, आगरा तथा मुरादाबाद समेत अनेक मंडलों में रात के तापमान म मुजफ्फरनगर में पारा जमाव बिंदु के नजदीक पहुंच गया है । पिछले 24 घंटे के दौरान वहां का न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से छह डिग्री कम था।
 
 
 
टिप्पणियाँ