शुक्रवार, 28 नवम्बर, 2014 | 08:20 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ठंड ने तोड़ा 44 साल का रिकार्ड, उत्तरप्रदेश में 15 मरे
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:02-01-13 09:23 PM

समूचे उत्तर भारत के भीषण ठंड की चपेट में होने के बीच राष्ट्रीय राजधानी में सर्दी ने पिछले 44 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है, वहीं ठंड की वजह से उत्तरप्रदेश में 15 और लोगों की जान चली गयी।

राजधानी में बुधवार को हाड़ कंपाने वाली हवाएं चल रही थीं। अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस स्तर पर आ गया जो 44 साल में सबसे कम है। मौसम विभाग के मुताबिक, न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। कोहरे की घनी चादर और बर्फीली हवाओं ने लोगों को ठिठुरने को मजबूर कर दिया। अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वर्ष 1969 के बाद से पहली बार अधिकतम तापमान इतना कम रहा। कल भी लोगों को बर्फीली हवाओं का सामना करना पड़ सकता है।

कोहरे की घनी चादर के चलते इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर दृश्यता काफी गिर जाने के कारण कई उड़ानें आज भी प्रभावित हुईं। करीब 30 से ज्यादा उड़ानों के समय का पुनर्निर्धारण किया गया और एक अंतरराष्ट्रीय उड़ान को मार्ग परिवर्तित कर मुंबई भेज दिया गया।

उत्तरप्रदेश में ठंड से होने वाली मौतों का सिलसिला जारी है। राज्य के विभिन्न हिस्सों में 15 और लोगों की जान चली गयी। अधिकारियों ने बताया कि ठंड के कारण मुजफ्फरनगर में चार लोगों ने दम तोड़ दिया। मथुरा में तीन, आगरा, बुलंदशहर, एटा में दो-दो ओर बाराबंकी तथा मिर्जापुर में एक-एक व्यक्ति की जान चली गयी।

 
 
 
टिप्पणियाँ