रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 05:45 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    बिहार का चुनाव बना प्रतिष्ठा का प्रश्न, झारखंड के भाजपाइयों ने डाला बिहार में डाला याकूब को फांसी दिए जाने के विरोध में सुप्रीम कोर्ट के डिप्टी रजिस्ट्रार ने दिया इस्तीफा दिल्ली में तेज हुआ पोस्टर वार, केजरीवाल सरकार के विज्ञापनों के खिलाफ भाजपा ने लगाए पोस्टर पूर्व गृह मंत्री सुशील शिंदे ने कहा, मैंने संसद में हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल कभी नहीं किया  पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया सीजफायर का उल्लंघन, बीएसफ ने दिया करारा जवाब खेल रत्न के लिए सानिया के नाम की सिफारिश भाजपा सांसद वरुण गांधी का बयान, 94 फीसदी दलित, अल्पसंख्यक समुदाय को मिली फांसी की सजा विमान हादसे में ओसामा बिन लादेन के परिवार के सदस्यों की मौत  10 रुपए में ऐप उपलब्ध कराएगा गूगल प्ले  ISIS की शर्मनाक हरकत: चार साल के बच्चे को दी तलवार और कहा...मां का सिर काट डालो
पूरे देश में क्रिसमस का उत्साह, प्रार्थनाओं का आयोजन
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 02:42:55 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

राजधानी दिल्ली, केरल और पूर्वोत्तर राज्यों सहित पूरे देश में प्रभू यीशू का जन्मदिवस पूरे धूमधाम से क्रिसमस के रूप में मनाया जा रहा है। सभी गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाओं का आयोजन किया गया।
   
नई दिल्ली के बीचोंबीच स्थित सेक्रेड हार्ट कैथ्रेडल गिरिजाघर को बेहद सुंदर तरीके से सजाया गया है और वहां प्रभु यीशु के जन्म को दर्शाती झांकियां प्रदर्शित की गई हैं।
   
तमिलनाडु स्थित ईसाईयों के तीर्थ स्थल वेलन्कणी में हजारों की संख्या में लोग क्रिसमस का त्योहार मनाने पहुंचे हैं। कल मध्य रात्रि में जैसे ही घड़ी ने 12 बजाए, गिरजाघरों के पादरियों ने प्रभू यीशू के जन्म की घोषणा की। हाथों में बाइबल और मोमबत्ती लिए बच्चों ने जन्म की खुशी में गीत गाए और सभी ने एक-दूसरे को बधाई दी।
   
इसी तरह वर्ष 1718 में बने तरंगमबाड़ी स्थित एशिया के सबसे पुराने प्रोटेस्टेंट गिरजाघर यरूशलम गिरजाघर में सैकड़ों लोगों ने विशेष प्रार्थना की।
   
क्रिसमस मनाने के लिए मेघालय में स्थानीय लोगों के अलावा बड़ी संख्या में पर्यटक भी जुटे हैं। गिरजाघरों में कल रात से विशेष मास और प्रार्थनाओं का आयोजन किया जा रहा है। कल मध्य रात्रि में प्रभू यीशू के जन्म के बाद से लोग एक-दूसरे को बधाईयां दे रहे हैं और दोस्तों, रिश्तेदारों में तोहफे बांट रहे हैं।
   
मेघालय की राजधानी शिलांग क्रिसमस और नया साल के उत्सव के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है, क्योंकि पूरा शहर क्रिसमस ट्री और रंग-बिरंबे बल्बों से सजा हुआ है। पारंपरिक क्रिसमस कैरोल और रंग-बिरंगी झांकियों के अलावा विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।
   
दक्षिण भारत में केरल में लोग पूरी भक्ति, श्रद्धा और विश्वास के साथ क्रिसमस का त्योहार मना रहे हैं। क्रिसमस की पूर्व संख्या पर पैटोम स्थित संत मेरी मलांकरा सीरियन कैथेलिक कैथ्रेडल बसीलिका में कार्डिनल मार बसेलियस क्लीमीस ने क्रिसमस मास कराया।
   
प्रार्थनाओं के बाद बारी आई स्वादिष्ट पकवानों की। लोगों ने जमकर केक खाए और खिलाए। पूरे राज्य में होटलों और रेस्तरां को क्रिसमस ट्री, घंटियों और सांता के पुतलों से सजाया है। तमिलनाडु में भी क्रिसमस पूरे उत्साह के साथ मनाया गया।
   
राज्यपाल क़े रोसैया सहित नेताओं ने राज्य के लोगों को इस त्योहार की बधाई दी। अपने संदेश में मुख्यमंत्री ज़े जयललिता ने तमिलनाडु के लोगों से प्रभू यीशू के महान सिद्धांतों को अपने जीवन में उतारने की की सीख दी।
   
द्रमुक नेता एम़ करुणानिधि ने भी लोगों को इस अवसर पर शुभकामनाएं दीं।

 
 
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?