शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 05:05 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
विद्या प्रकाश ठाकुर ने भी राज्यमंत्री पद की शपथ लीदिलीप कांबले ने ली राज्यमंत्री पद की शपथविष्णु सावरा ने ली मंत्री पद की शपथपंकजा गोपीनाथ मुंडे ने ली मंत्री पद की शपथचंद्रकांत पाटिल ने ली मंत्री पद की शपथप्रकाश मंसूभाई मेहता ने ली मंत्री पद की शपथविनोद तावड़े ने मंत्री पद की शपथ लीसुधीर मुनघंटीवार ने मंत्री पद की शपथ लीएकनाथ खड़से ने मंत्री पद की शपथ लीदेवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
छत्तीसगढ़ में CRPF शिविर में गोलीबारी, 4 जवानों की मौत
रायपुर, एजेंसी First Published:25-12-12 10:02 AM
Image Loading

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान ने अपने सोते हुए साथी जवानों पर गोली चला दी। घटना में चार जवानों की मौत हो गई तथा एक घायल है।
   
दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र खरे ने बताया कि जिला मुख्यालय से लगभग 65 किलोमीटर दूर अरनपुर गांव स्थित सीआरपीएफ शिविर में 111वीं बटालियन एफ कंपनी के जवान दीप कुमार तिवारी (30) ने पांच जवानों को गोली मार दी। इस घटना में चार जवानों की मौत हो गई, जबकि एक घायल हो गया है।
   
खरे ने बताया कि कल रात लगभग सवा 12 बजे सीआरपीएफ के जवान भोजन के बाद अपने बैरक में सो रहे थे और दीप कुमार बाहर टहल रहा था। अचानक दीप कुमार ने पास में ही सो रहे अन्य जवानों पर अपने सर्विस रायफल से गोली चला दी। इस घटना में तीन जवानों की घटनास्थाल पर ही मौत हो गई तथा दो गंभीर रूप से घायल हो गये।
   
बैरक में अचानक गोलीबारी की आवाज सुनकर अन्य जवान सोते से उठे और उन्होंने दीप को पकड़ लिया। अधिकारी और कैंप में मौजूद चिकित्सक भी वहां पहुंचे गए। इसके बाद दो घायल जवानों को जगदलपुर रवाना किया गया जिसमें एक की रास्ते में ही मौत हो गई।
   
पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक जवान को जगदलपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बतायी जा रही है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने दीप कुमार को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ कर रही है।
   
खरे ने कहा कि पूछताछ में आरोपी दीप कुमार ने बताया कि पिछले दो दिन से उसकी तबीयत कुछ ठीक नहीं है। रात में जब सारे जवान सो रहे थे, तब उसकी मानसिक हालत बिगड़ी और उसने गोली चला दी।
   
उन्होंने बताया कि नक्सल प्रभावित अरनपुर क्षेत्र में सीआरपीएफ की 111वीं बटालियन की दो कंपनियां एफ और डी कंपनी तैनात है। हमलावर जवान एफ कंपनी का है।

 
 
 
टिप्पणियाँ