बुधवार, 01 जुलाई, 2015 | 07:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    'मेंढक' को है आपकी दुआओं की जरूरत, कोमा में है आपका चहेता किरदार सुनंदा पुष्कर केस में शशि थरूर का लाइ डिटेक्टर टेस्ट कराने की तैयारी में जुटी पुलिस शर्मनाक: सीरिया में आईएस ने दो महिलाओं का सिर कलम किया उपचुनाव में रिकॉर्ड डेढ लाख वोटों के अंतर से जीतीं जयलिलता, सभी विरोधी उम्मीदवारों की जमानत जब्त धौलपुर महल विवाद: कांग्रेस ने राजे के खिलाफ नए सबूत पेश किए, भाजपा बोली, छवि बिगाड़ने की साजिश ट्विटर पर जॉन ने खोली 'वेलकम बैक' की रिलीज़ डेट, आप भी जानिए बांग्लादेश में उड़ा टीम इंडिया का मजाक, इन क्रिकेटरों को दिखाया आधा गंजा गांगुली ने टीम इंडिया में हरभजन की वापसी का किया स्वागत रोहित समय के पाबंद हैं, उनके साथ काम करना मुश्किल: शाहरूख खान तेंदुलकर ने अजिंक्य रहाणे को दीं शुभकामनाएं
मेरी सुरक्षा हटाई जाए: तरुण विजय
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-12-12 05:18 PM

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता व राज्यसभा सदस्य तरुण विजय ने दिल्ली में युवतियों की असुरक्षा के मद्देनजर शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे को पत्र लिखकर अपनी सुरक्षा हटाए जाने की मांग की है।

तरुण ने शिंदे को लिखे पत्र में कहा कि दिल्ली में बीते रविवार की रात हुई सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाद लोग इंडिया गेट पर प्रदर्शन करते हुए नागरिकों की सुरक्षा और बढ़ाए जाने की मांग कर रहे हैं, ऐसे में वह केंद्र सरकार द्वारा उन्हें उपलब्ध कराए गए सुरक्षा घेरे में नहीं रह सकते हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन से जान से मारने की धमकियां मिलने के बाद केंद्र सरकार ने यह सुरक्षा उपलब्ध कराई थी।

तरुण ने अपने पत्र में कहा, ''मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप मेरा सुरक्षा घेरा हटा लें और आम नागरिकों को अधिक सुरक्षा उपलब्ध कराएं क्योंकि उन्हें इसकी ज्यादा जरूरत है।''

उन्होंने कहा कि यदि सुरक्षा घेरे के अभाव में वह आतंकवादियों के हाथों मारे जाते हैं तो भी उन्हें अफसोस नहीं होगा क्योंकि राजनेताओं को नहीं आम लोगों इस सुरक्षा की आवश्यकता है।

 

 
 
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड