शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 06:41 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
मेरी सुरक्षा हटाई जाए: तरुण विजय
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-12-2012 05:18:30 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता व राज्यसभा सदस्य तरुण विजय ने दिल्ली में युवतियों की असुरक्षा के मद्देनजर शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे को पत्र लिखकर अपनी सुरक्षा हटाए जाने की मांग की है।

तरुण ने शिंदे को लिखे पत्र में कहा कि दिल्ली में बीते रविवार की रात हुई सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाद लोग इंडिया गेट पर प्रदर्शन करते हुए नागरिकों की सुरक्षा और बढ़ाए जाने की मांग कर रहे हैं, ऐसे में वह केंद्र सरकार द्वारा उन्हें उपलब्ध कराए गए सुरक्षा घेरे में नहीं रह सकते हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन से जान से मारने की धमकियां मिलने के बाद केंद्र सरकार ने यह सुरक्षा उपलब्ध कराई थी।

तरुण ने अपने पत्र में कहा, ''मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप मेरा सुरक्षा घेरा हटा लें और आम नागरिकों को अधिक सुरक्षा उपलब्ध कराएं क्योंकि उन्हें इसकी ज्यादा जरूरत है।''

उन्होंने कहा कि यदि सुरक्षा घेरे के अभाव में वह आतंकवादियों के हाथों मारे जाते हैं तो भी उन्हें अफसोस नहीं होगा क्योंकि राजनेताओं को नहीं आम लोगों इस सुरक्षा की आवश्यकता है।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।