मंगलवार, 07 जुलाई, 2015 | 08:07 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    चीन ने विज्ञापन में दिखाई भारतीय शहरों में गंदगी  VIDEO: आकाशवाणी दिल्ली परिसर में सिपाही पर गोलीबारी कुंआरी मां बन सकती है बच्चे की अभिभावक  ऑनलाइन स्टार बनी रांची की नेत्रहीन बालिका टुंपा स्पाइसजेट ऑफर: अब सिर्फ 1899 रुपये में लें हवाई यात्रा का मजा  पीएम नरेंद्र मोदी पहुंचे उज्बेकिस्तान, ब्रिक्स बैठक में लेंगे हिस्सा झारखंड: खूंटी के अड़की में युवक की हत्या पलामू के चैनपुर में लुटेरों ने युवक को गोली मारी, गंभीर रांची ITI के लापता छात्र का शव रामगढ़ से बरामद व्यापमं घोटाला: ट्रेनी SI की मिली लाश, कांग्रेस ने की सीएम शिवराज को बर्खास्त करने की मांग
कैश सब्सिडी पर कांग्रेस और भाजपा में वाकयुद्ध
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-12-12 03:28 PM
Image Loading

गरीबों को उनकी कल्याण योजनाओं की नगदी का सीधे हस्तांतरण करने की सरकार की योजना की घोषणा के समय को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा केंद्र से जवाब मांगे जाने के बाद कांग्रेस तथा भाजपा के बीच इस विषय पर वाकयुद्ध शुरू हो गया है।
   
सूचना और प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने कहा कि सरकार निर्वाचन आयोग को इस संबंध में जानकारी मुहैया कराएगी। उन्होंने योजना पर भाजपा से उसका रुख स्पष्ट करने को कहा।
   
तिवारी ने संवाददाताओं से कहा भाजपा को नगदी हस्तांतरण पर अपना रूख स्पष्ट करना चाहिए। वह इसके पक्ष में है या इसके विरोध में है। क्या वह चाहती है कि लोगों का धन सीधे लोगों के हाथों में जाना चाहिए या वह ऐसा नहीं चाहती।
   
उन्होंने कहा कि अगर निर्वाचन आयोग ने कुछ पूछा है या कुछ हद तक स्पष्टीकरण मांगा है तो मुझे पूरा विश्वास है कि निर्वाचन आयोग को अपेक्षित सूचना सरकार की ओर से मुहैया करा दी जाएगी।
   
उधर भाजपा प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने मुद्दे पर कांग्रेस की गंभीरता को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा क्या कांग्रेस इस बारे में गंभीर है। क्या उन्होंने अपना होमवर्क ठीक से किया है।
  
उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने पूरे मामले के अध्ययन के लिए एक समिति गठित की है और उसके बाद ही कोई टिप्पणी की जाएगी।
   
बहरहाल, प्रसाद ने कहा कि भाजपा सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) खत्म करने के पक्ष में नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि राजस्थान में सीधे नगदी हस्तांतरण योजना के लिए पायलट परियोजना सफल क्यों नहीं हुई।
   
उन्होंने कहा लेकिन एक बात बिल्कुल साफ है। अगर इसका मतलब सार्वजनिक वितरण प्रणाली को खत्म करना है तो भाजपा इसके विरोध में है क्योंकि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार और अन्य राज्यों में पीडीएस के तहत अच्छा काम हुआ है। पहले मनीष तिवारी बताएं कि राजस्थान में बड़े जोर शोर से शुरू की गई नगदी हस्तांतरण योजना क्यों नाकाम हुई।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingमिताली ने वनडे मैचों में पूरे किए 5000 रन
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने सोमवार को एकदिवसीय क्रिकेट में 5000 रन पूरे कर लिए। इस मुकाम पर पहुंचने वाली वह भारत की पहली और विश्व की दूसरी बल्लेबाज हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड