रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 05:04 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
ठाकरे स्मारक विवाद पर BMC का शिवसेना को नोटिस
मुंबई, एजेंसी First Published:04-12-12 02:27 PM
Image Loading

बृहनमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने महापौर सुनील प्रभु और शिवसेना सांसद संजय राउत को दादर के शिवाजी पार्क से शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे का अस्थाई स्मारक हटाने के लिए नोटिस जारी किए हैं।

महानगर पालिका अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि दोनों को सोमवार रात नोटिस जारी किए गए। महानगर पालिका आयुक्त सीताराम कुंते ने कहा कि जिस उद्देश्य (ठाकरे का अंतिम संस्कार) के लिए यह स्थल दिया गया था, वह पूरा हो चुका है। इसलिए हमने प्रभु और राउत से ढांचा तुरंत हटाने या कानूनी कार्रवाई का सामना करने के लिए कहा है।

बाल ठाकरे का शिवाजी पार्क में 18 नवंबर को उसी मैदान में अंतिम संस्कार किया गया था, जहां पिछले 40 साल से वह दशहरा रैलियों के दौरान अपने समर्थकों को संबोधित किया करते थे और उनकी पार्टी वहां ठाकरे का स्मारक बनाने की इच्छुक है।

पिछले सप्ताह शिवसेना ने शिवाजी पार्क पर बालासाहेब की अंतिम संस्कार के स्थल की तुलना अयोध्या से की थी। राउत ने संवाददाताओं से कहा था कि इस स्थल की पवित्रता बनी रहनी चाहिए। यह हमारे लिए मंदिर की तरह है और हम अंतिम संस्कार स्थल पर बने ढांचे को नहीं हटाएंगे।

उन्होंने सरकार और अदालत से इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करने के लिए कहा था। पार्टी के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी ने सबसे पहले इस जगह बाल ठाकरे का स्मारक बनाने की मांग की थी। ठाकरे का 17 नवंबर को अपने आवास मातोश्री में निधन हो गया था।
 
 
 
टिप्पणियाँ