रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 09:07 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
कर्नाटक: भाजपा ने टाला बागियों पर कार्रवाई का फैसला
बेलगाम (कर्नाटक), एजेंसी First Published:12-12-12 09:13 PM
Image Loading

कर्नाटक में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने 14 विधायकों और सात विधानपरिषद सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई का फैसला बुधवार को टाल दिया। इन विधायकों ने पूर्व मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा द्वारा गठित की गई कर्नाटक जनता पार्टी (कजपा) का खुलकर समर्थन किया।

प्रदेश भाजपा के नेताओं ने फैसला किया कि वे इस सम्बंध में केंद्रीय नेतृत्व को लिखेंगे और पूछेंगे कि बागियों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाए जिससे यह संदेश जाए कि भाजपा अनुशासन कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।

येदियुरप्पा ने जिस दिन अपनी पार्टी गठित की थी उस दिन इन बागियों ने हावेरी में आयोजित कार्यक्रम में येदियुरप्पा के साथ मंच साझा किया था।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के. एस. ईश्वरप्पा ने आला नेताओं की एक बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ''हमने इस मसले पर चर्चा की। कल या परसों हम इस बारे में केंद्रीय नेतृत्व को लिखेंगे।''

बैठक में ईश्वरप्पा के अलावा मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार, गृह मंत्री आर. अशोका और पूर्व मुख्यमंत्री डी. वी. सदानंद गौड़ा शामिल थे।

यह पूछे जाने पर कि बार-बार की चेतावनी के बाद भी इन विधायकों ने येदियुरप्पा के साथ मंच साझा किया लेकिन इसके बावजूद भाजपा उन पर कड़ी कार्रवाई क्यों नहीं कर रही, ईश्वरप्पा ने कहा, ''भाजपा एक राष्ट्रीय पार्टी है और ऐसे मामलों में केंद्रीय नेतृत्व की मंजूरी आवश्यक है।''

उन्होंने कहा कि पार्टी का संसदीय बोर्ड एक या दो दिनों में बैठक कर कोई फैसला लेगा।

225 सदस्यीय राज्य विधानसभा में 14 बागियों सहित भाजपा विधायकों की कुल संख्या 118 है। कुछ बागियों ने धमकी दी है कि यदि उनके खिलाफ कार्रवाई की गई तो वे विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे और शेट्टार सरकार अल्पमत में आ जाएगी। राज्य में विधानसभा चुनाव मई 2013 में होने हैं।
 
 
 
टिप्पणियाँ