शुक्रवार, 29 मई, 2015 | 19:48 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट का डबल झटका, एलजी ही करेंगे नियुक्ति   क्या दाऊद को जल्द भारत ला रही सरकार बीएमडब्ल्यू ने पेश किया ग्रान कूपे का नया मॉडल  चीन में आमिर का एलियन अवतार हुआ हिट चीन में आमिर का एलियन अवतार हुआ हिट सायना की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त 26 लड़कियों से रेप के आरोपी टीचर को मौत की सजा दिल्ली एयरपोर्ट पर रेडियोएक्टिव पदार्थ लीक से मचा हड़कंप, काबू में लीकेज स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में फिर से भारतीयों का बोलबाला सरकारी नौकरीः 400 से ज्यादा दसवीं पास से लेकर इंजीनियर तक वैकेंसी
फेसबुक पोस्ट विवाद में पालघर के मजिस्ट्रेट का तबादला
मुंबई, एजेंसी First Published:27-11-12 01:47 PM
Image Loading

बाल ठाकरे के अंतिम संस्कार के दिन मुंबई बंद को लेकर फेसबुक पर टिप्पणी करने वाली दो लड़कियों की गिरफ्तारी के एक हफ्ते बाद बंबई उच्च न्यायालय ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजने और फिर जमानत देने वाले मजिस्ट्रेट का तबादला कर दिया है।
    
उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार ने कल स्थानांतरण आदेश जारी किए जिसके बाद इससे गृह मंत्रालय, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी और ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी आऱ जी़ बगाड़े को अवगत करा दिया गया।
    
आदेश में कहा गया है, पालघर में प्रथम श्रेणी के न्यायिक दंडाधिकारी आऱ जी़ बगाड़े को तत्काल प्रभाव से जलगांव स्थानांतरित किया जा रहा है। ठाकरे के अंतिम संस्कार पर 18 नवम्बर को मुंबई बंद को लेकर शाहीन ढांडा ने फेसबुक पर एक टिप्पणी लगाई थी और रेणु श्रीनिवासन ने इसे लाइक किया था। इसे लेकर पिछले सोमवार को दोनों को गिरफ्तार किया गया था।
    
बाद में लड़कियों को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया, जिन्होंने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया और बाद में 15-15 हजार रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी।
    
इस घटना से कानूनविदों में बहस छिड़ गई कि लड़कियों को जमानत देने के बजाए उन्हें मामले से बरी किया जा सकता था, क्योंकि उन पर गलत धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।
    
इस पर महाराष्ट्र सरकार ने पुलिस महानिरीक्षक सुखविंदर सिंह की अध्यक्षता में एक जांच का गठन किया जिन्होंने डीजीपी कार्यालय को गिरफ्तारी पर अपनी रिपोर्ट सौंप दी।
    
रिपोर्ट में लड़कियों की गिरफ्तारी करने वाले पुलिसकर्मियों को दोषी पाया गया और कहा गया कि गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए थी। इसके बाद महाराष्ट्र पुलिस ने संबंधित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का वादा किया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingअंतिम 11 में जगह मिलने की नहीं थी उम्मीद : सरफराज
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के सबसे युवा बल्लेबाज सरफराज खान का कहना है कि उन्हें क्रिस गेल, ए.बी. डीविलियर्स और विराट कोहली जैसे विध्वंसक बल्लेबाजों के बीच अंतिम 11 में जगह मिलने का यकीन नहीं था और नम्बर छह की बेहद महत्वपूर्ण स्थान पर मौका दिये जाने से उनका आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड