शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 01:49 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत हेमा मालिनी के ड्राइवर को कुछ ही घंटों में मिली जमानत, बच्ची की मौत से हेमा दुखी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान
सरकारों को गिरने का भय, विरोध प्रदर्शन का नहीं: अन्ना
भुवनेश्वर, एजेंसी First Published:01-12-12 08:17 PM
Image Loading

भारत के लोगों को उनकी शक्ति के बारे में जगरूक बनाने और संसद में जन लोकपाल विधेयक पारित करना सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए अन्ना हजारे ने कहा कि सरकारों को केवल अपने गिरने का भय होता है। उन्होंने कहा कि सरकार को विरोध प्रदर्शन एवं धरना का नहीं।

हजारे ने यहां लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकारें चाहे केंद्र में हो या राज्यों में, उन्हें केवल सत्ता जाने का भय होता है। उन्हें पता होता है कि लोग उन्हें गिरा सकते हैं। लोगों को समझना चाहिए कि वे ही असली मालिक है। मैं लोगों को उनके इन अधिकारों के बारे में जागरूक बनाने का काम करूंगा।

उन्होंने कहा कि जब तक लोग अपनी शक्ति का उपयोग नहीं करेंगे और सरकार पर दबाव नहीं बनायेंग़े़, तब तक सत्ता में बैठे लोग देश को भ्रष्टाचार से मुक्त बनाने के लिए कानून नहीं बनायेंगे।

हजारे ने कहा कि उन्होंने लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए राष्ट्रव्यापी यात्रा करने की योजना बनाई है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड