गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 19:17 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
प्रख्यात साहित्यकार रॉबिन शॉ पुष्प नहीं रहेन्यायालय ने गुमशुदा बच्चों के मामलों में प्राथमिकी दर्ज नहीं करने पर बिहार और छत्तीसगढ़ सरकारों को आड़े हाथ लिया।सरकार 1984 के सिख विरोधी दंगों में मारे गए 3,325 लोगों में से प्रत्येक के नजदीकी परिजन को पांच़-पांच लाख देगीमहाराष्ट्र की नई सरकार में शिवसेना के किसी नेता को शामिल नहीं किया जाएगा: राजीव प्रताप रूडी
अकबर ओवैसी के घर पुलिस ने नोटिस चिपकाया
हैदराबाद, एजेंसी First Published:04-01-13 06:26 PM

आंध्र प्रदेश पुलिस ने नफरत फैलाने वाला भाषण देने के आरोपी मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी के घर के बाहर नोटिस चिपकाया है, जो फिलहाल कथित तौर पर इलाज के लिए लंदन में हैं।

ओवैसी के खिलाफ मामला दर्ज करने के एक दिन बाद अदिलाबाद तथा निजामाबाद जिलों की पुलिस ने उन्हें नोटिस भेजा। बंजारा हिल्स स्थित उनके आवास पर किसी के नहीं रहने के कारण पुलिस ने नोटिस उनके घर के मुख्य द्वार की दीवार पर चिपका दिया।

ओवैसी को आठ जनवरी को निर्मल टाउन और नौ जनवरी को निजामाबाद में पुलिस के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। पुलिस उनसे पिछले महीने निर्मल और निजामाबाद में जनसभा के दौरान दिए गए भाषण के बारे में पूछताछ करेगी।

ओवैसी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न गैर-जमानती धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। उनके खिलाफ धारा 121 (देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने या इसकी कोशिश करने), धारा 153-ए (धर्म, जाति, भाषा के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच वैमनस्य फैलाने) तथा धारा 295-ए (धार्मिक भावना भड़काने या किसी धर्म अथवा धार्मिक विश्वास का अपमान करने के उद्देश्य से जानबूझकर की गई कार्रवाई) के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। ओवैसी के खिलाफ हैदराबाद में भी एक मामला दर्ज किया जाना है।

इस बीच आंध्र प्रदेश के पुलिस महानिदेशक वी. दिनेश रेड्डी ने कहा कि यदि यह पाया जाता है कि ओवैसी पुलिस के समक्ष पेश होने से बचने के लिए लंदन जाकर जानबूझकर देरी कर रहे हैं तो इसमें इंटरपोल की मदद मांगी जा सकती है।

 
 
 
टिप्पणियाँ