शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 22:24 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो अमेरिकी विदेश विभाग में पहली बार मनी दीवाली एनआईए प्रमुख ने बर्दवान विस्फोट की जांच का जायजा लिया आईएस के आतंकवादी अब दुनिया में सबसे धनी : विशेषज्ञ
इंदिरा गांधी के हत्यारों को अकाल तख्त ने किया सम्मानित
अमृतसर, एजेंसी First Published:06-01-13 09:19 PM
Image Loading

सिख धर्म की सर्वोच्च संस्था अकाल तख्त ने सत्तारूढ़ शिरोमणि अकाली दल के एक नेता की मौजूदगी में पूर्व प्रधानमंत्री के दो हत्यारों को उनकी 24वीं बरसी पर सम्मानित किया।

गौरतलब है कि साल 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या करने वाले सतवंत सिंह और केहर

सिंह को छह जनवरी 1989 को फांसी दे दी गयी थी। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने सतवंत सिंह के पिता त्रिलोक सिंह को एक सिरोपा भेंट किया।

जत्थेदार ने गांधी के हत्यारों को आस्था के शूरवीर भी करार दिया। शिरोमणि अकाली दल की अमृतसर इकाई के अध्यक्ष और पूर्व सांसद सिमरनजीत सिंह मान और सिख कट्टरपंथी संगठन दल खालसा के नेता कंवर पाल सिंह भी इस मौके पर मौजूद थे।

बहरहाल, एसजीपीसी अध्यक्ष अवतार सिंह मक्कड़ इस मौके पर मौजूद नहीं थे। इस कार्यक्रम

में कोई भाषण तो नहीं दिया गया, लेकिन अरदास जरूर हुआ ।

इस मौके पर संवाददाताओं से बातचीत में कंवर पाल सिंह ने कहा कि इस दिन हम उन्हें

श्रद्धांजलि देते हैं। सिखों को उन पर गर्व है और हम उनकी शहादत का पूरा सम्मान करते हैं।
 
 
 
टिप्पणियाँ