बुधवार, 01 जुलाई, 2015 | 02:55 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    'मेंढक' को है आपकी दुआओं की जरूरत, कोमा में है आपका चहेता किरदार सुनंदा पुष्कर केस में शशि थरूर का लाइ डिटेक्टर टेस्ट कराने की तैयारी में जुटी पुलिस शर्मनाक: सीरिया में आईएस ने दो महिलाओं का सिर कलम किया उपचुनाव में रिकॉर्ड डेढ लाख वोटों के अंतर से जीतीं जयलिलता, सभी विरोधी उम्मीदवारों की जमानत जब्त धौलपुर महल विवाद: कांग्रेस ने राजे के खिलाफ नए सबूत पेश किए, भाजपा बोली, छवि बिगाड़ने की साजिश ट्विटर पर जॉन ने खोली 'वेलकम बैक' की रिलीज़ डेट, आप भी जानिए बांग्लादेश में उड़ा टीम इंडिया का मजाक, इन क्रिकेटरों को दिखाया आधा गंजा गांगुली ने टीम इंडिया में हरभजन की वापसी का किया स्वागत रोहित समय के पाबंद हैं, उनके साथ काम करना मुश्किल: शाहरूख खान तेंदुलकर ने अजिंक्य रहाणे को दीं शुभकामनाएं
शिवसेना के कार्यकर्ताओं से मिलेंगे उद्धव
मुंबई, एजेंसी First Published:02-12-12 03:00 PM
Image Loading

शिव सेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को 'मराठी मानुष' और 'हिन्दुत्व' के लिए लड़ने का संकल्प दोहराया। वह जल्द ही पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकता करने के लिए पूरे महाराष्ट्र का दौरा करेंगे।

शिव सेना प्रमुख बाल ठाकरे की मौत के बाद पार्टी के मुखपत्र 'सामना' में दिए अपने पहले साक्षात्कार में उद्धव ने कहा वह अपने पिता का स्थान नहीं ले सकते, उनकी जगह अपूरणीय हैं और वह हमेशा पार्टी के सर्वेसर्वा रहेंगे।

उन्होंने कहा कि शिव पार्क में बाल ठाकरे के स्मारक को लेकर उठा विवाद अनावश्यक था। वह सोमवार से पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए राज्य का दौरा करने वाले हैं। ठाकरे की यात्रा पश्चिमी महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले से शुरू होगी, जहां वह पार्टी कार्यकर्ताओं और स्थानीय निकायों और संसद के निर्वाचित प्रतिनिधियों सें मिलेंगे।

नासिक में पांच दिसम्बर को विभिन्न क्षेत्रों के लिए बैठकों का आयोजन किया जाएगा। वहीं सात दिसम्बर को रत्नागिरी, 14 दिसम्बर को नागपुर और 16 दिसम्बर को औरंगाबाद में बैठकों का आयोजन होगा।

ठाकरे प्रदेश के सभी 35 जिलों के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे। इसके अतिरिक्त वह अपने बेटे आदित्य के नेतृत्व वाली युवा सेना के कार्यकर्ताओं से भी रूबरू होंगे। इन बैठकों में सुभाष देसाई, मनोहर जोशी, लीलाधर डाके, गजानंद कीर्तिकार, रामदास कदम, दिवाकर राओते और संजय राउत जैसे पार्टी के शीर्ष पदाधिकारी भी उपस्थित रहेंगे।

ज्ञात हो कि गत 17 नवम्बर को अपने पिता बाल ठाकरे की मौत के बाद उद्धव पहली बार पार्टी कार्यकताओं से मुलाकात करेंगे।

 

 
 
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड