शुक्रवार, 22 मई, 2015 | 14:01 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    मोदी सरकार का एक साल: जेटली ने कहा, दुनिया में भारत का मान बढ़ा  प्रकृति एवं पर्यावरण पर ग्रीष्मकालीन शिविर आईपीएल सट्टेबाजी मामले में ईडी ने मारे कई शहरों में छापे मतदाताओं के लिए आधार की अनिवार्यता पर माकपा को आपत्ति ट्रांसफर-पोस्टिंग पर नियंत्रण करना चाहता है केंद्र: केजरीवाल पीएफ का पैसा निकालने से पहले जरूर पढ़ें ये खबर आतंकियों को मारने के लिए आतंकी बनाना अच्छा: पर्रिकर आईपीएल: मैच ही नहीं, कप्तानी का भी मुकाबला पॉप स्टार माइकल जैक्सन की बेटी गणेश जी की प्रशंसक जयललिता बनेंगी सीएम, पनीरसेल्वम का इस्तीफा
सस्ते गैस सिलेंडर पर फैसला अभी बाकी: मोइली
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-12 02:46 PMLast Updated:12-12-12 04:23 PM
Image Loading

निर्वाचन आयोग की आपत्ति के एक दिन बाद पेट्रोलियम मंत्री एम वीरप्पा मोइली ने बुधवार को कहा कि सस्ते एलपीजी सिलेंडरों की संख्या बढ़ाए जाने पर फैसला अभी नहीं किया गया है और यदि ऐसा फैसला होता तो इसकी सूचना निर्वाचन आयोग को जरूर दी गई होती।

मोइली ने संवाददाताओं से कहा कि अगर प्रस्ताव तैयार कर लिया गया होता और इसकी घोषणा करनी होती अथवा फैसले ले लिए गए होते तो निश्चित तौर पर मैंने चुनाव आयोग को लिखा होता।

मोइली ने कहा कि सरकार बार-बार कहती रही है कि सब्सिडी छह सिलेंडर तक सीमित करने के फैसले की समीक्षा की जा रही है और उन्होंने कल सीआईआई (उद्योग मंडल) के एक कार्यक्रम के दौरान अलग से संवाददाताओं द्वारा पूछे गए सवाल पर यही बात दोहराई थी।

उन्होंने कहा कि मैं राजनीतिक फायदे के लिए निर्वाचन आयोग के पीठ पीछे कुछ नहीं करना चाहूंगा। हमारा ऐसा कोई इरादा नहीं है। इसके बारे में हमारे सोच बिल्कुल साफ हैं तथा हम पारदर्शी और तथ्यों पर आधारित काम कर रहे हैं।

निर्वाचन आयोग ने गुजरात चुनाव के बीच मोइली के सब्सिडी वाले सिलेंडरों की संख्या बढ़ाने संबंधी कल दिए गए बयान पर कड़ी आपत्ति जतायी और उनसे तुरंत जवाब तलब किया। पेट्रोलियम मंत्री ने सरकारी जवाब में कहा है, सरकार को इस मामले पर अभी निर्णय करना है। ऐसे में मीडिया के सवालों पर मेरी टिप्पणी को सरकारी फैसले की घोषणा न माना जाए।

उन्होंने लिखा है कि मैं आश्वासन देना चाहता हूं कि कोई फैसला करते समय भारत के निर्वाचन आयोग के नियम कायदों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। पत्रकारों से बातचीत में मोइली ने कहा कि हर तरफ से सब्सिडी वाले सिलेंडरों की संख्या छह तक सीमित करने के फैसले की समीक्षा करने की मांग की जा रही है।

कांग्रेस के करीब 100 सांसदों, कई मुख्यमंत्रियों और केंद्रीय मंत्रियों ने इस तरह की मांग उठाई है। उनकी चिंताओं का समाधान तो आज या कल तो करना ही है, लेकिन मैं यह भी जानता हूं कि भारत के निर्वाचन आयोग को लिखे बगैर ऐसा नहीं किया जा सकता।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingआईपीएल सट्टेबाजी मामले में ईडी ने मारे कई शहरों में छापे
प्रवर्तन निदेशालय ने आईपीएल टी20 क्रिकेट मैचों से जुड़े सट्टेबाजी गिरोहों के खिलाफ हवाला और मनी लाउंड्रिंग की जांच के सिलसिले में दिल्ली, मुंबई और जयपुर समेत कई शहरों में आज छापे मारे।