रविवार, 26 अप्रैल, 2015 | 18:32 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
सरकार ने भूकंप में मारे गए परिवारों के लिए मुआवजा बढ़ाकर छह लाख रुपए कियाभूकंप पर गृह, रक्षा एवं विदेश सचिवों की छह बजे प्रेस कांफ्रेंसवोडाफोन ने तुरंत प्रभाव से नेपाल के लिए काल दर प्रति मिनट 12 रुपये से घटाकर एक रुपये की जो 28 अप्रैल दस बजे तक प्रभावी रहेगी
राष्ट्र रत्न थे पंडित रविशंकर: मनमोहन
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-12 12:50 PM
Image Loading

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रसिद्ध सितार वादक पंडित रविशंकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह राष्ट्र रत्न और भारत की सांस्कृतिक विरासत के वैश्विक दूत थे।

मनमोहन ने अपने संदेश में कहा कि रविशंकर के निधन से एक युग का अंत हो गया है। मैं समूचे राष्ट्र की तरफ से उनकी प्रतिभा, उनकी कला और उनकी विनम्रता को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि रविशंकर एक राष्ट्र रत्न और भारत की सांस्कृतिक विरासत के वैश्विक दूत थे। सितार वादक का स्वास्थ्य पिछले कई साल से खराब चल रहा था और गुरुवार को कैलीफोर्निया स्थित स्क्रिप्स मेमोरियल अस्पताल में उनका ऑपरेशन भी हुआ था। अस्पताल में ही उन्होंने अंतिम सांस ली।

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने अपने संदेश में कहा कि भारत ने अपना एक असाधारण लाल खो दिया है। रविशंकर 92 साल के थे। पिछले हफ्ते उन्हें सांस लेने में तकलीफ के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सितार वादक को 1999 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

 

 

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingअपने मन की सुनते हैं धौनी : अश्विन
चेन्नई सुपर किंग्स के स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने रविवार को कहा कि उनकी टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी किसी मैच में बिल्कुल खाली दिमाग से जाते हैं और हालात के मुताबिक मन की बात सुनते हुए कोई फैसला लेते हैं।