रविवार, 05 जुलाई, 2015 | 18:23 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फेसबुक ने 15 साल बाद मां-बेटे को मिलाया  व्हाट्सएप मैसेज से बवाल कराने वाला बीए का छात्र मोहित गिरफ्तार मुरादाबाद: नदी में पलटी जुगाड़ नाव, आठ डूबे, सर्च ऑपरेशन जारी यूपी के रामपुर में दो भाईयों की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी बिहार के हाजीपुर में भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, छह गिरफ्तार झारखंड: चतरा के टंडवा में हाथियों ने कई घर तोड़े, खा गए धान बिहार में आंखों का अस्पताल बनाने के लिए इंडो-अमेरिकन्स का बड़ा कदम मुजफ्फरनगर के शुक्रताल में हजारों मछलियां मरीं, संत समाज बैठा धरने पर भागलपुर: नलों से निकला लाल पानी, लोगों ने बताया खून, लगाया जाम बेउर जेल में बाहुबली रीतलाल यादव के वार्ड में छापा, मोबाइल और सिम मिले
नरेंद्र मोदी की जीत पर नीतीश ने साधी चुप्पी
पटना, एजेंसी First Published:21-12-12 02:18 PMLast Updated:21-12-12 03:54 PM
Image Loading

राजग के सबसे बड़े घटक भाजपा के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की गुजरात विधानसभा चुनावों में जीत पर सहयोगी दल जदयू के नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लगातार चुप्पी साधे रहने पर एक बार फिर राजनीतिक चर्चा का बाजार गर्म हो गया है।

गुजरात में नरेंद्र मोदी की जीत पर जहां एक ओर सभी दल के लोग उन्हें बधाई दे रहे हैं, वहीं दूसरी ओर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुजरात चुनाव परिणाम पर मीडियाकर्मियों के पूछे जाने के बाद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा है कि नरेंद्र मोदी की जीत से राजग मजबूत होगा, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चुनाव परिणाम आने के बाद से संवाददाताओं से पूछे जाने पर कुछ भी बोलने से इनकार कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री सचिवालय में एक कार्यक्रम के बाद शुक्रवार को जब नीतीश कुमार से संवाददाताओं ने गुजरात चुनावों पर प्रतिक्रिया जानने का प्रयास किया तो वह बिना कोई जवाब दिये बैठक में चले गये। कल भी नीतीश कुमार ने इसी प्रकार प्रतिक्रिया देने से कन्नी काटी थी।

नीतीश के इस रुख के बाद बिहार में एक बार फिर भाजपा और जदयू के गठबंधन को लेकर कई प्रकार के कयास लगाये जा रहे हैं। नरेंद्र मोदी के राजग के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की अटकलों को लेकर पहले भी इस वर्ष के मध्य में दोनों दलों के बीच काफी बयानबाजी हुई थी।

मुख्यमंत्री ने प्रतिक्रिया के लिए पूछे जाने पर हालांकि संक्षिप्त तौर पर कहा कि इसके लिए आपको अलग से बुला लेंगे। इस बयान के भी कई प्रकार के कयास लगाये जा रहे हैं। इस विषय में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जदयू के नेता और अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री शाहिद अली खान ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा प्रतिक्रिया व्यक्त करना या नहीं करना यह उनका अधिकार है। जहां तक गुजरात में भाजपा की जीत का सवाल है पार्टी ने कांग्रेस को पराजित किया है। कांग्रेस को जिसने पराजित किया है उसे हम बधाई देते हैं।

नरेंद्र मोदी को बधाई देने के संबंध में पूछे जाने पर खान ने कहा कि नरेंद्र मोदी बड़े लोग हैं। उन्हें बड़े लोग बधाई देंगे। हम नीतीश जी के कार्यकर्ता हैं और पार्टी का झंडा ढोने वाले हैं वह जो कहेंगे हमें मान्य होगा।

प्रधानमंत्री पद के बारे में नरेंद्र मोदी की उम्मीदवारी पर पूछे जाने पर राज्य के मंत्री ने कहा कि इस मुद्दे पर राजग में विचार किया जाएगा। उम्मीदवार कौन होगा और कैसा होगा पार्टी, पार्टी पहले ही इस पर अपनी राय व्यक्त कर चुकी है।

भाजपा नेता और पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी को बधाई देना या नहीं देना मुख्यमंत्री का निजी मामला है। उन्होंने कहा कि भारत में संस्कार और एक संस्कृति रही है कि एक-दूसरे को जीत पर बधाई दी जाती है। हारने वाला भी जीतने वाले को बधाई देता है।

 

 
 
 
अन्य खबरें
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड