शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 12:29 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दिल्ली की अदालत ने कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में गुप्ता तथा 4 अन्य को जमानत दीअदालत ने आरोपियों को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानत पर रिहा किया
पीएम ने परमाणु आतंकवाद मामले पर विश्व को चेताया
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:23-03-12 10:19 PMLast Updated:24-03-12 12:23 AM
Image Loading

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने परमाणु आतंकवाद को दुनिया के सामने मौजूद सबसे बडा़ खतरा बताने के साथ उम्मीद जताई है कि परमाणु सुरक्षा पर दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल मे होने वाले सम्मेलन में विश्व में परमाणु सुरक्षा को मजबूत करने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।

डॉ. सिंह सोल में 26 से 27 मार्च के बीच होने वाले सम्मेलन के लिए शनिवार को रवाना होंगे। अपनी रवानगी से पहले डॉ. सिंह ने आज कहा कि वह सम्मेलन में परमाणु सुरक्षा और परमाणु अप्रसार से जुडी़ भारत की सबसे बडी चिंता के साथ ही इस मसले पर भारत के साफ सुथरे रिकार्ड को प्राथमिकता के साथ उठायेंगे। उन्होंने कहा कि इस दौरान मैं दुनिया को परमाणु मुक्त बनाने के मुद्दे पर भारत के समर्थन को भी रेखांकित करूंगा।

डॉ. सिंह ने उम्मीद जताई कि परमाणु सुरक्षा को मजबूत करने के लिए पिछली बार हुई मुलाकात से लेकर अब तक विभिन्न देशों द्वारा उठाए गए कदमों की चर्चा भी सोल सम्मेलन के दौरान की जाएगी और वैश्विक स्तर पर परमाणु सुरक्षा को मजबूत करने के लिए अगले कदम भी उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन में हिस्सा लेने से परमाणु सुरक्षा के मामले पर दूसरे देशों के साथ विचारों के आदान-प्रदान का मौका मिलेगा।

डॉ. सिंह ने कहा कि जापान में फुकुशिमा में पिछले साल हुए हादसे के बाद परमाणु सुरक्षा का मामला और भी जरूरी हो गया है। इस बीच तमिलनाडु के कुडनकुलम में परमाणु ऊर्जा संयंत्र को बंद करने के लिए आम लोगों द्वारा किया जा रहा आमरण अनशन आज पांचवें दिन भी जारी रहा।

 
 
 
टिप्पणियाँ