सोमवार, 06 जुलाई, 2015 | 21:21 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    चीन ने विज्ञापन में दिखाई भारतीय शहरों में गंदगी  VIDEO: आकाशवाणी दिल्ली परिसर में सिपाही पर गोलीबारी कुंआरी मां बन सकती है बच्चे की अभिभावक  देश की आवाज बनेगी रांची की टुंपा स्पाइसजेट ऑफर: अब सिर्फ 1899 रुपये में लें हवाई यात्रा का मजा  पीएम नरेंद्र मोदी पहुंचे उज्बेकिस्तान, ब्रिक्स बैठक में लेंगे हिस्सा झारखंड: खूंटी के अड़की में युवक की हत्या पलामू के चैनपुर में लुटेरों ने युवक को गोली मारी, गंभीर रांची ITI के लापता छात्र का शव रामगढ़ से बरामद व्यापमं घोटाला: ट्रेनी SI की मिली लाश, कांग्रेस ने की सीएम शिवराज को बर्खास्त करने की मांग
मशहूर सितार वादक पंडित रविशंकर का निधन
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:12-12-12 10:41 AMLast Updated:12-12-12 03:14 PM
Image Loading

भारतीय संगीत का दुनियाभर में प्रचार-प्रसार करने वाले मशहूर सितार वादक पंडित रविशंकर का बुधवार को अमेरिका के सैन डिएगो में 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनका द बीटल्स जैसे पश्चिमी संगीतकारों पर काफी प्रभाव था।

रविशंकर का स्वास्थ्य पिछले कुछ समय से खराब था। उनकी गत गुरुवार को कैलीफोर्निया के लॉ जोला स्थित स्क्रिप्स मेमोरियल अस्पताल में सर्जरी हुई थी और वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। रविशंकर को गत सप्ताह उस समय अस्पताल में भर्ती कराया गया था जब उन्होंने सांस लेने में परेशानी की शिकायत की थी।

पंडित रविशंकर की पत्नी सुकन्या और बेटी अनुष्का शंकर ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि हम बहुत भरे दिल से आपको सूचित कर रहे हैं कि मशहूर संगीतज्ञ पंडित रविशंकर का आज निधन हो गया।

वर्ष 1999 में भारत रत्न से सम्मानित रविशंकर के भारत और अमेरिका दोनों जगह आवास थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी सुकन्या, पुत्री नोरा जोंस, पुत्री अनुष्का शंकर राइट तथा अनुष्का के पति जो राइट, तीन पोते पोतियां और चार परपोते-परपोतियां हैं।

बयान में कहा गया है कि आप सभी को पता है कि उनका स्वास्थ्य गत कई वर्षों से खराब चल रहा था तथा गत गुरुवार को उनकी एक सर्जरी की गई जिससे उन्हें नया जीवनदान मिलने की संभावना थी। दुर्भाग्य से सर्जन और चिकित्सकों के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद उनका शरीर सर्जरी नहीं झेल सका। जब उन्होंने अंतिम सांस ली तो हम उनके पास ही थे।

दोनों ने बयान में कहा कि हम जानते हैं कि आप सभी इस दुख के समय हमारे साथ हैं तथा हम आप सभी को आपकी प्रार्थनाओं और शुभेच्छाओं के लिए धन्यवाद देते हैं। हालांकि यह दुख की घड़ी है, लेकिन यह हम सभी के लिए इस बात के लिए धन्यवाद देने का समय भी है कि हमने उनके साथ अपना जीवन बिताया। उनकी भावना और विरासत हमेशा ही हमारे ह्रदय और उनके संगीत में बनी रहेगी।

तीन बार ग्रैमी पुरस्कार से सम्मानित रविशंकर ने आखिरी बार गत चार नवम्बर को कैलीफोर्निया में अपनी पुत्री अनुष्का शंकर के साथ प्रस्तुति दी थी। रविशंकर को उनके एल्बम द लिविंग सेशंस पार्ट-1 के लिए वर्ष 2013 के ग्रैमी पुस्कार के लिए नामांकित किया गया था और उस श्रेणी में उनका मुकाबला अनुष्का से था।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआराम के पलों में बाइक की मरम्मत करा रहे धौनी
भारतीय क्रिकेट की टेस्ट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी इन दिनों अपने गृह नगर में हैं। वह यहां हरमू स्थित अपने घर में अपनी बाइक की मरम्मत करा रहे हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड