गुरुवार, 28 मई, 2015 | 13:13 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    रायबरेली पहुंची सोनिया गांधी व्यापम घोटाला: अब तक जांच से जुड़े 40 लोगों की मौत त्रिपुरा सरकार ने राज्य में 18 सालों से लगा अफस्पा हटाया गुर्जर आंदोलन: जयपुर पहुंचे बैंसला, बोले आरक्षण लिए बिना नहीं हटेंगे  कुछ इस तरह हुई फीफा के 14 अधिकारियों की गिरफ्तारी पतंजलि फूड पार्क संघर्ष में एक मरा, रामदेव के भाई गिरफ्तार मूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच  फैशन के फेर में टेढ़ी हो गई लड़कियों की कमर  बेटे के लिए दूल्हा तलाश रही मां को मिले 150 रिश्ते बिहार में पढ़ने के लिए घर से भागीं दो लड़कियां
मशहूर सितार वादक पंडित रविशंकर का निधन
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:12-12-12 10:41 AMLast Updated:12-12-12 03:14 PM
Image Loading

भारतीय संगीत का दुनियाभर में प्रचार-प्रसार करने वाले मशहूर सितार वादक पंडित रविशंकर का बुधवार को अमेरिका के सैन डिएगो में 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनका द बीटल्स जैसे पश्चिमी संगीतकारों पर काफी प्रभाव था।

रविशंकर का स्वास्थ्य पिछले कुछ समय से खराब था। उनकी गत गुरुवार को कैलीफोर्निया के लॉ जोला स्थित स्क्रिप्स मेमोरियल अस्पताल में सर्जरी हुई थी और वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। रविशंकर को गत सप्ताह उस समय अस्पताल में भर्ती कराया गया था जब उन्होंने सांस लेने में परेशानी की शिकायत की थी।

पंडित रविशंकर की पत्नी सुकन्या और बेटी अनुष्का शंकर ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि हम बहुत भरे दिल से आपको सूचित कर रहे हैं कि मशहूर संगीतज्ञ पंडित रविशंकर का आज निधन हो गया।

वर्ष 1999 में भारत रत्न से सम्मानित रविशंकर के भारत और अमेरिका दोनों जगह आवास थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी सुकन्या, पुत्री नोरा जोंस, पुत्री अनुष्का शंकर राइट तथा अनुष्का के पति जो राइट, तीन पोते पोतियां और चार परपोते-परपोतियां हैं।

बयान में कहा गया है कि आप सभी को पता है कि उनका स्वास्थ्य गत कई वर्षों से खराब चल रहा था तथा गत गुरुवार को उनकी एक सर्जरी की गई जिससे उन्हें नया जीवनदान मिलने की संभावना थी। दुर्भाग्य से सर्जन और चिकित्सकों के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद उनका शरीर सर्जरी नहीं झेल सका। जब उन्होंने अंतिम सांस ली तो हम उनके पास ही थे।

दोनों ने बयान में कहा कि हम जानते हैं कि आप सभी इस दुख के समय हमारे साथ हैं तथा हम आप सभी को आपकी प्रार्थनाओं और शुभेच्छाओं के लिए धन्यवाद देते हैं। हालांकि यह दुख की घड़ी है, लेकिन यह हम सभी के लिए इस बात के लिए धन्यवाद देने का समय भी है कि हमने उनके साथ अपना जीवन बिताया। उनकी भावना और विरासत हमेशा ही हमारे ह्रदय और उनके संगीत में बनी रहेगी।

तीन बार ग्रैमी पुरस्कार से सम्मानित रविशंकर ने आखिरी बार गत चार नवम्बर को कैलीफोर्निया में अपनी पुत्री अनुष्का शंकर के साथ प्रस्तुति दी थी। रविशंकर को उनके एल्बम द लिविंग सेशंस पार्ट-1 के लिए वर्ष 2013 के ग्रैमी पुस्कार के लिए नामांकित किया गया था और उस श्रेणी में उनका मुकाबला अनुष्का से था।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingमूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच
भारतीय टीम के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का कार्यकाल खत्म हो चुका है और बीसीसीआई अब एक नए कोच की तलाश में जुटी हुई है। टीम इंडिया का कोच बनना एक बड़ी चुनौती होती है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड