गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 15:19 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
साध्वी प्राची का विवादित बयान: अमरनाथ यात्रियों को परेशानी हुई तो हज यात्रियों को भी झेलनी होगी परेशानी>> भूमि अधिग्रहण पर अध्यादेश आने के बाद भी जमीन अधिग्रहीत नही कर पा रही राज्य सरकारें >> ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा दो या तीन राज्य सरकारों ने ही बनाये हैं भूमि अधिग्रहण अध्यादेश के आधार पर नियम >> देश की सभी ग्राम पंचायतों का एसेट डाटा तैयार होगा. मोबाइल एप के जरिये एसेट की फोटो मैप पर डाली जायेगी
वॉलमार्ट मामले में सेवानिवृत्त न्यायाधीश करेंगे जांच
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-12 01:14 PMLast Updated:12-12-12 04:24 PM
Image Loading

सरकार ने विपक्ष समेत अनेक दलों के दबाव में बुधवार को घोषणा की कि वह अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट द्वारा भारत में लॉबिंग की खबरों पर सेवानिवृत्त न्यायाधीश से समयबद्ध तरीके से जांच कराएगी।

संसदीय कार्य मंत्री कमल नाथ ने बुधवार सुबह लोकसभा की बैठक शुरू होते ही यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि सरकार वॉलमार्ट से जुड़ी खबरों के मामले में समयबद्ध जांच के लिए एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश की नियुक्ति करेगी।

खुदरा कारोबार करने वाली बड़ी कंपनी वॉलमार्ट द्वारा भारतीय बाजार में पैठ बनाने के लिए लॉबिंग पर धन खर्च किये जाने की खबरों को लेकर संसद में पिछले दो दिन तक हंगामे की स्थिति रही। विभिन्न दलों ने मंगलवार को इस मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से न्यायिक जांच कराने की मांग की थी।

एफडीआई के मुद्दे पर सरकार को बचाने में अहम भूमिका निभाने वाले राजद और सपा ने भी वॉलमार्ट द्वारा भारत में अपने कारोबारी हितों को बढ़ाने के लिए धन खर्च किये जाने की खबरों पर पूरी तरह निष्पक्ष जांच की मांग की है।

वॉलमार्ट ने अमेरिकी सीनेट में स्वीकार किया था कि उसने लॉबिंग संबंधी अनेक गतिविधियों के लिए पिछले चार साल में 125 करोड़ रुपये खर्च किये हैं।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड