सोमवार, 06 जुलाई, 2015 | 06:28 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    लालू की हैसियत महुआ रैली में उजागर, नीतीश को पक्का मारेंगे लंगड़ीः पासवान एयरइंडिया के यात्री ने की खाने में मक्खी की शिकायत  फेसबुक ने 15 साल बाद मां-बेटे को मिलाया  व्हाट्सएप मैसेज से बवाल कराने वाला बीए का छात्र मोहित गिरफ्तार मुरादाबाद: नदी में पलटी जुगाड़ नाव, आठ डूबे, सर्च ऑपरेशन जारी यूपी के रामपुर में दो भाईयों की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी बिहार के हाजीपुर में भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, छह गिरफ्तार झारखंड: चतरा के टंडवा में हाथियों ने कई घर तोड़े, खा गए धान बिहार में आंखों का अस्पताल बनाने के लिए इंडो-अमेरिकन्स का बड़ा कदम मुजफ्फरनगर के शुक्रताल में हजारों मछलियां मरीं, संत समाज बैठा धरने पर
राज्यसभा में एफडीआई पर चर्चा, सरकार पर जमकर बरसी AIADMK
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-12-12 03:38 PMLast Updated:06-12-12 05:47 PM

बहुब्रांड खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) पर गुरुवार को राज्यसभा में चर्चा के दौरान ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) केंद्र सरकार पर जमकर बरसी। उसने सरकार पर इस मुद्दे को लेकर झूठ बोलने का आरोप लगाया।

एआईएडीएमके नेता वी. मैत्रेयन ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार झूठ बोल रही है कि खुदरा क्षेत्र में एफडीआई से किसानों तथा छोटे उत्पादकों को मदद मिलेगी और बहुत सी नौकरियों का सृजन होगा।

खुदरा क्षेत्र में एफडीआई के खिलाफ राज्यसभा में प्रस्ताव लाने वाले मैत्रेयन ने कहा कि प्रधानमंत्री ने स्वयं एफडीआई का विरोध किया था, जब वह विपक्ष में थे। संप्रग सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी इसके खिलाफ थीं।

सभी दलों से इस मुद्दे पर सरकार को हाराने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार संख्या बल जुटा सकती है, लेकिन मैं सभी दलों से मतदान करने और देश को बचाने की अपील करता हूं।

 
 
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड