शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 04:41 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
एक आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेजा गया
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 09:27:59 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

दिल्ली की एक अदालत ने छात्रा से गैंगरेप के सनसनीखेज मामले में शिनाख्त परेड में पहचाने गये एक आरोपी को मंगलवार को 12 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया, जबकि एक अन्य आरोपी की मंगलवार को शिनाख्त परेड होगी।

महानगर मजिस्ट्रेट पवन कुमार ने अपराध के दौरान कथित रूप से बस चला रहे और सहआरोपी राम सिंह के भाई मुकेश को छह जनवरी तक तिहाड़ जेल भेज दिया। मुकेश की शिनाख्त परेड हो चुकी है, जबकि छह में से एक अन्य आरोपी अक्षय ठाकुर की कल तिहाड़ जेल में शिनाख्त परेड होगी।

आरोपी मुकेश को मुंह ढककर पेश किया गया। जांच अधिकारी ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आग्रह किया। इस मामले में जांच जारी है। अदालत ने कहा कि मुकेश अन्य आरोपी के साथ छह जनवरी को पेश होगा।

शिनाख्त परेड में पीड़िता के पुरुष मित्र ने मुकेश को पहचान लिया था। तीन दिन की हिरासत में पूछताछ के बाद उसे आज अदालत में पेश किया गया। मुकेश के अलावा इस मामले में चार अन्य आरोपी राम सिंह, विनय शर्मा, पवन गुप्ता और अक्षय ठाकुर हैं।

बिहार के औरंगाबाद से गिरफ्तार ठाकुर फिलहाल न्यायिक हिरासत में है और तिहाड़ जेल में कल उसकी शिनाख्त परेड होगी क्योंकि उसने इस संबंध में अपनी रजामंदी दे दी थी। छठे आरोपी के संबंध में कार्यवाही बाल न्याय बोर्ड के सामने अलग चल रही है क्योंकि वह नाबालिग है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।