रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 11:28 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आज मोदी की चाय पार्टी में शामिल हो सकते हैं शिवसेना सांसद शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी
पीड़ित लड़की अब भी वेंटीलेटर पर, हालत बेहतर
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-12 08:11 PMLast Updated:25-12-12 09:45 PM
Image Loading

दिल्ली में चलती हुई बस में बर्बर गैंगरेप की शिकार बनी 23 वर्षीय लड़की की हालत सोमवार के मुकाबले मंगलवार को बेहतर है, लेकिन वह अब भी जीवनरक्षक प्रणाली (वेंटीलेटर) पर है। यह जानकारी डॉक्टरों ने दी।

पीड़िता के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रख रहे सफदरजंग अस्पताल के डाक्टरों ने कहा कि उसके प्लेटलेट्स और कुल ल्यूकोसाइट्स की संख्या में कल के मुकाबले सुधार हुआ है और अब वह बातचीत करने के लिए शारीरिक रूप से फिट है।

डॉक्टर सुनील जैन ने कहा कि उसका लीवर कमोबेश सही तरह काम कर रहा है और प्रयोगशाला में हुई जांचें भी कमोबेश सही आई हैं। उसके प्लेटलेट्स और कुल ल्यूकोसाइट्स में सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि हालांकि, यह सुधार काफी रक्त एवं प्लेटलेट्स चढ़ाए जाने के बाद हुआ है।

गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) के प्रभारी डॉ. पीके वर्मा ने कहा कि लड़की की हालत कल के मुकाबले बेहतर है, लेकिन वह अब भी वेंटीलेटर पर है। उन्होंने कहा कि वह अब भी वेंटीलेटर पर है, लेकिन वेंटीलेटर पर निर्भरता घटा दी गई है।

कल आंतरिक रक्तस्राव के लक्षणों के चलते उसकी हालत बिगड़ गई थी। डॉक्टरों ने तब उसकी हालत को अत्यंत नाजुक करार दिया था।

मनोचिकित्सक आर रस्तोगी ने कहा कि युवती मानसिक स्तर पर स्थिर है, और उसकी लड़ने की भावना अभी भी बरकरार है। वह अच्छे भविष्य को लेकर आशावान है और उसे भावनात्मक शक्ति की जरूरत है।
 
 
 
टिप्पणियाँ