शुक्रवार, 04 सितम्बर, 2015 | 13:19 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुरादाबाद में फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस से नौकरी पाने में रोडवेज के छह ड्राइवरों पर केस कार्यालय अधीक्षक ने इन सभी चालकों के खिलाफ कराई एफआईआरबरेली - भोजीपुरा में पुलिस की पिटाई से गर्भवती महिला की हालत बिगड़ी, गंभीरप्रतापगढ़- 102 एंबुलेंस ने दो महिलाओं को रौंदा, मौतरामपुर में मोबाइल शॉप से 13 लाख की चोरी, गैस बेल्डिंग मशीन से ताले काटकर दिया घटना को अंजामयूपी - निगोही में पुलिस की गाड़ी पर पशु तस्‍करों ने ट्रक चढ़ायाशाहजहांपुर - कलान में गुंडा एक्ट में निरुद्ध होने से नाराज युवक टावर पर चढ़ापीलीभीत - बिलसंडा में चुनावी रंजिश को पूर्व प्रधान के भाई-बेटे की हत्‍याबुलंदशहर- जिले के स्याना क्षेत्र के गांव थल ईनायतपुर में गुरुवार की रात घर में सो रहे सेवानिवृत्त फौजी सतवीर 62 वर्ष की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। हत्या के कारण का पता नहीं चल सका है। हत्या की वारदात से क्षेत्र में दहशत है। सूचना पर कोतवाली स्याना से पुलिस पहुंची। पुलिस जांच में जुटी है।जमशेदपुर- बिस्टुपुर बाज़ार के अंदर के दुकानदारों नें शुक्रवार को अपनी दुकानों को बंद रखा है। बाज़ार में चले प्रशासन के अतिक्रमण हटाओ अभियान के खिलाफ यह कदम उठाया गया है।झारखंड- कोडरमा के नवलशाही इलाके के धोबियाघाट से शुक्रवार को पुलिस ने एक सौ पीस पावर जिलेटिन बरामद किया है।
पुलिस का टूटा कहर, इंडिया गेट पर भड़की हिंसा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:23-12-2012 05:11:13 PMLast Updated:23-12-2012 06:48:01 PM
Image Loading

राजधानी के इंडिया गेट पर प्रदर्शनकारियों के पथराव और लोहे की छड़ें लेकर सुरक्षाकर्मियों से भिड़ जाने तथा पुलिसकर्मियों द्वारा उन पर आंसू गैस के गोले दागने एवं पानी की धार फेंकने के बाद हिंसा भड़क गई।

ऐसी खबरे हैं कि कुछ तत्व हिंसा फैला रहे हैं। महज डेढ़ घंटे के अंदर दूसरी बार दोपहर करीब ढ़ाई बजे दोनों पक्षों में झड़प हुई। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि हिंसा क्यों भड़की। पुलिस ने रायसीना हिल जाने वाले राजपथ पर अवरोधक लगा रखे थे।

अपराह्न करीब सवा तीन बजे जब प्रदर्शनकारी पथराव करने लगे तब पुलिस ने उन पर आंसू गैस के गोले दागे एवं पानी की बौछार की। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कुछ प्रदर्शनकारियों ने लोहे की छड़ लेकर हमला भी किया। हालांकि ज्यादातर प्रदर्शनकारियों ने शांति बनाए रखी और उन्होंने प्रदर्शन के दौरान हिंसा पर ऐतराज जताया। उन्होंने आरोप लगाया कि हिंसा करने वालों की अपनी कुछ और ही मंशा है।

पुलिस ने युद्ध स्मारक के समीप राजपथ पर भीड़ को तितर-बितर करने के लिए कई बार आंसू गैस के गोले दागे और बल प्रयोग किया। पुलिस की इस कार्रवाई में कुछ मीडियाकर्मियों समेत कई लोग घायल हो गए।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकेरल में नया आशियाना बसाएंगे मास्टर ब्लास्टर सचिन
क्रिकेट के ‘भगवान’ कहे जानें वाले मास्टर ब्लास्टर बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने तटीय राज्य केरल में एक खूबसूरत और आलीशान खरीदने पर विचार कर रहे हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।