रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 09:10 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
गैंगरेप के खिलाफ फूटा प्रदर्शनकारियों का गुस्सा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-12-12 12:12 PMLast Updated:22-12-12 01:29 PM
Image Loading

गैंगरेप की शिकार 23 वर्षीय पीड़िता के लिए न्याय की गुहार लगाने के लिए शनिवार को सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन की ओर रैली निकालकर अपने गुस्से का इजहार किया।

पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह भी इंडिया गेट पर प्रदर्शनकारियों के साथ मिलकर राष्ट्रपति भवन की ओर बढ़े। इस मुद्दे पर लगातार छठे दिन से प्रदर्शनों का सिलसिला जारी है। सैकड़ों युवा आज सुबह इंडिया गेट के पास एकत्रित हुये और राजपथ के रास्ते से रायसीना पहाड़ी की ओर कूच किया।

रायसीना हिल्स में राष्ट्रपति भवन समेत प्रधानमंत्री कार्यालय एवं गृह मंत्रालय स्थित है। युवा छात्रों ने राजपथ पर स्थित सुरक्षा घेरा तोड़ दिया और रायसीना हिल्स तक पहुंच गये, जहां उन्हें रोक दिया गया। उल्लेखनीय है कि कल भी राष्ट्रपति भवन की ओर प्रदर्शन किया गया था।

प्रदर्शनकारियों के साथ शामिल वीके सिंह ने कहा कि आप देख रहे हैं कि प्रशासनिक प्रणाली विफल हो जाने के कारण यह समस्या उतपन्न हुयी है। पुलिस सुधार की योजना कई साल से ठंडे बस्ते में पड़ी है। उन्होंने इसके लिए क्यों कुछ भी नहीं किया.. हम पुलिस आयुक्त को यह कहते हुये क्यों सुनते हैं कि उनके पास कर्मचारियों की कमी है। यह बहुत शर्मनाक है।

पूर्व सेना अध्यक्ष ने कहा कि यह उनकी विफलता है। यह समस्या इसलिए उत्पन्न हुयी है क्योंकि इस देश में राजनीतिक और प्रशासनिक उदासीनता है।
 
 
 
टिप्पणियाँ